देश/प्रदेश

घनसाली में एनजीटी के मानकों का जमकर उड़ाया जा रहा मखौल, भागीरथी नदी में जमकर उड़ेला जा रहा कूड़ा

टिहरीः घनसाली में एनजीटी के मानकों का जमकर मखौल उड़ाया जा रहा है. यहां पर नगर का कूड़ा सड़क के किनारे डाला जा रहा है. जो सीधे भागीरथी नदी में जा रहा है. जिससे नदी प्रदूषित हो रही है. इतना ही नहीं कूड़ा का निस्तारण ना होने से स्थानीय लोगों को बदबू से भी दो चार होना पड़ रहा है. वहीं, मामले पर डीएम ने कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

बता दें कि घनसाली नगर पंचायत की आबादी दस हजार के करीब है. यहां पर रोजाना काफी मात्रा में कूड़ा निकलता है, लेकिन कूड़ा निस्तारण की कोई व्यवस्था ना होने के कारण नगर के कूड़े को सड़क किनारे डाला जा रहा है. जो सीधे भागीरथी नदी में जा रहा है. साथ ही एनजीटी के मानकों का खुलेआम उल्लंघन भी हो रहा है.

स्थानीय लोगों का कहना है कि कूड़े के बदबू से पूरे घनसाली क्षेत्र में महामारी फैलने का डर बना हुआ है, लेकिन घनसाली नगर पंचायत के द्वारा कूड़ा निस्तारण की कोई उचित जगह नहीं बनाई है. जिस कारण नगर का कूड़ा भागीरथी में डाला जा रहा है.

जबकि, यहां से चारधाम यात्री उत्तरकाशी-घनसाली से होते हुए केदारनाथ और बदरीनाथ निकलते हैं. इसके बावजूद नगर पंचायत की ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है. इतना ही नहीं स्थानीय लोग मामले को लेकर कई बार विरोध भी कर चुके हैं.

उनका कहना है कि नगर पंचायत घनसाली के द्वारा नगरवासियों से कूड़ा निस्तारण के लिए टैक्स लिया जाता है, लेकिन डंपिंग जोन ना होने के कारण खुलेआम सड़क के किनारे कूड़ा डाला जा रहा है. वहीं, आए दिन मवेशी यहां प्लास्टिक खाते हुए नजर आते हैं. इस पूरे मामले में नगर पंचायत लापरवाह बना हुआ है.

वहीं, जिलाधिकारी वी. षणमुगम ने उप जिलाधिकारी को मामले की जांच करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही मामले पर तत्काल कार्रवाई करने को कहा है. जिससे नगरवासियों को बदबू से राहत मिले और प्रदूषण भी ना फैले.

विशेष