उधम सिंह नगर

बनबसा बॉर्डर पहुंचे नेपाली मजदूरों ने अपने देश के ही खिलाफ लगाये जोर -जोर से नारे

खटीमा: देश के विभिन्न राज्यों से अपने देश नेपाल जाने के लिए सैकड़ों की संख्या में नेपाली मजदूर चंपावत जिले के बनबसा पहुंचे. इन मजदूरों को नेपाल सरकार द्वारा बॉर्डर सील करने के चलते स्थानीय प्रशासन ने नेपाल जाने से रोक दिया है. जिसके चलते नेपाली मजदूरों ने नेपाल सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया. वहीं बनबसा में स्थानीय प्रशासन ने नेपाली मजदूरों के लिए खाने की व्यवस्था की.

देश में छूट के साथ जारी लॉकडॉउन 4.0 में लोगों की आवाजाही अचानक से बढ़ गई है. जिसके चलते अन्य राज्यों से बनबसा-उधम सिंह नगर बॉर्डर पर आज सैंकड़ों की संख्या में नेपाली नागरिक पहुंचे. वाहनों और पैदल मार्ग से बनबसा बॉर्डर पहुंचे ये नेपाली नागरिक स्थानीय प्रशासन से अपने देश जाने की मांग करने लगे.

वहीं, जब स्थानीय पुलिस प्रशासन ने नेपाली नागरिकों को समझाया कि नेपाल ने फिलहाल बॉर्डर को सील कर अपने नागरिकों की वतन वापसी पर रोक लगाई है, तो वे भड़क गए. अपने देश नेपाल न पहुंच पाने की पीड़ा में गुस्साए नेपाली नागरिकों ने बनबसा बॉर्डर पर अपने देश के खिलाफ ही प्रदर्शन शुरू कर दिया. साथ ही नेपाल सरकार को संदेश दिया कि वह उन्हें जल्दी अपने देश वापस बुलाएं.

स्थानीय प्रशासन के समझाने पर सैंकड़ो की संख्या में बनबसा बॉर्डर पहुंचे नेपाली नागरिक शांत हुए. वहीं मित्र राष्ट्र की भूमिका का निर्वहन करते हुए बनबसा पुलिस ने बॉर्डर पर पहुंचे सभी नेपाली नागरिकों को भोजन-पानी उपलब्ध कराया. एसडीएम टनकपुर दयानंद सरस्वती ने इस मामले में कहा कि बनबसा बॉर्डर पर अचानक पहुंचे सैंकड़ों नेपाली नागरिकों समझाया गया है. नेपाल प्रशासन से वार्ता और सहमति के बाद ही इन्हें वापस इनके देश नेपाल भेजा जाएगा.