देश/प्रदेश

12 दिन बाद छोटे वाहनों के लिए खुला राष्ट्रीय राजमार्ग

चम्पावत : बीती 11 दिसंबर से बंद चल रहा टनकपुर-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे कार्यदायी शिवालया कंपनी ने छोटे वाहनों के लिए खोल दिया।

करीब 12 दिन से बंद हाईवे के खुलने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है। वहीं कंपनी अधिकारियों ने कहा कि एक सप्ताह बाद मार्ग बड़े वाहनों के लिए खोल दिया जाएगा। बड़े वाहनों का आवागमन न होने से लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। यही नहीं जरूरी सामान के मुख्यालय तक न पहुंच पाने के कारण लोगो को सामान महंगे दामों पर खरीदना पड़ रहा है।

गौरतलब है टनकपुर-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग गत 11 दिसंबर से स्वाला के पास बंद है। कार्यदायी शिवालया कंपनी स्वाला मंदिर स्थित संकरी पहाड़ी को तेजी से काटने का प्रयास कर रही है लेकिन पहाड़ी को कटने में करीब डेढ़ से दो माह का समय लगना है।

एनएच बंद हो जाने से लोगों को दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। एक ओर लोगों को तीन गुना अधिक किराया देकर सूखीढांग डांडा मीनार रोड से रीठासाहिब होते हुए सफर करना पड़ रहा है।

वहीं जरूरत के सामान की मुख्यालय में पहुंच न होने से महंगाई बढ़ गई है। जिससे लोगों को महंगे दामों पर घेरलू सामान खरीदना पड़ रहा है। लोगों की समस्या को देखते हुए कंपनी ने मार्ग को जल्द खोलने के लिए पहाड़ी कटिंग का कार्य बंद कर विदेशी तकनीक से संकरे मार्ग को चौड़ा करना शुरू किया।

इधर डीएम एसएन पांडे ने भी मार्ग का निरीक्षण कर कंपनी को 23 दिसंबर से मार्ग खोलने के आदेश दिए थे। जिसके बाद कंपनी ने युद्ध स्तर पर काम शुरू कर दिया।

इसी का नतीजा रहा कि शिवालया कंपनी ने छोटे वाहनों के लिए मार्ग सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे खोल दिया। कंपनी अधिकारियों का कहना है कि एक सप्ताह बाद वह मार्ग बड़े वाहनों के लिए भी खोल दिया जाएगा। बहरहाल 12 दिनों के इस तकलीफ भरे सफर से लोगों को काफी राहत मिली है।

करीब 12 दिनों से बंद एनएच को सोमवार को छोटे वाहनों के लिए खोल दिया गया है। कंपनी काफी तेजी से कार्य कर रही है। उम्मीद है कि एक सप्ताह बाद एनएच बड़े वाहनों के लिए भी खोल दिया जाएगा।

विशेष