Home विशेष उत्‍तराखंड के पर्वतीय जिलों में बनेंगे मदर वेटिंग सेंटर

उत्‍तराखंड के पर्वतीय जिलों में बनेंगे मदर वेटिंग सेंटर

18
0
SHARE

देहरादून, प्रदेश में गर्भवती महिलाओं की समस्याओं को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग इनके लिए मदर वेटिंग रूम बनाने जा रहा है।

इस योजना के तहत इन स्थानों पर गर्भवती महिलाओं को बच्चा पैदा होने की संभावित तिथि से पहले भर्ती किया जाएगा। यहां इनके इलाज के लिए सहायकों को भी रखा जाएगा। देहरादून में भी इसी तरह का वेटिंग रूम बनाने की योजना है।

प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में महिलाओं को बच्चों को जन्म देते समय खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसका एक मुख्य कारण दूरस्थ इलाकों में महिला अस्पतालों का न होना है। ऐसे में महिलाओं को जिला अस्पताल तक आना पड़ता है।

कई बार ऐसे मामले भी आए हैं जब गर्भवती महिलाओं ने रास्ते में ही बच्चों को जन्म दिया है। गर्भवती महिलाओं के जटिल मामलों में अनहोनी की आशंका बनी रहती है। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग इनके लिए मदर वेटिंग सेंटर बनाने की तैयारी कर रहा है।

इसका मकसद यह है कि यहां गर्भवती महिलाओं को उचित उपचार दिया जा सके। इसके लिए इन महिलाओं का निर्धारित तिथि से पहले ही यहां भर्ती कर दिया जाएगा। यहां मौजूद स्टाफ इनकी देखभाल करेगा और जरूरत पडऩे पर इन्हें समय से हायर सेंटर भेजा जा सकेगा।

इसके अलावा विभाग देहरादून में गर्भवती महिलाओं की बढ़ती भीड़ को देखते हुए यहां भी एक मदर वेटिंग सेंटर बनाने की योजना है। दरअसल, आसपास के पर्वतीय क्षेत्रों से महिलाएं अधिकतर दून अस्पताल ही आती हैं।

इसके लिए विभाग की मंशा सरकारी अस्पताल के 500 मीटर के दायरे में किसी धर्मशाला या भवन को किराये पर लेने की है, जहां इन गर्भवती महिलाओं को ठहराया जाएगा और समय आने पर इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा।

मकसद यह कि इससे अस्पताल पर कम से कम भार रहे। अपर सचिव स्वास्थ्य डॉ. पंकज कुमार पांडेय ने बताया कि जल्द ही इस योजना को शुरू किया जा रहा।

LEAVE A REPLY