राष्ट्रीय

मच्छरों को भगाने के लिए सुलगाई गई आग में गौशाला हुई ख़ाक

बागेश्वर :  कांडा तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत खर्ककानातोली के बैसानी तोक में मच्छरों को भगाने के लिए लगाए गए धुएं से आग भड़क गई। आग ने पास में बनी गोशाला को अपनी चपेट में ले लिया। थोड़ी ही देर में आग तेज होने लगी। आग की लपटें देखकर पशुपालक और उसके पड़ोसियों ने गोशाला के अंदर बंधे चार जानवरों को खोलकर बचा लिया, लेकिन गोशाला जलकर राख हो गई।

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार रविवार की देर शाम सात बजे ग्राम पंचायत खर्ककानातोली के बैसानी तोक निवासी हीरा सिंह ने अपने जानवरों को मच्छरों से बचाने के लिए पास में एक स्थान पर धुआं लगा रखा था और खुद घर के अन्य कार्य संपन्न करने में जुट गया। कुछ ही देर में धुएं को लगाई गई आग भड़क गई और गोशाला को अपनी चपेट में ले लिया। देखते ही देखते गोशाला भी जलने लगी। उस वक्त गोशाला में एक भैंस, दो बैल और एक अन्य जानवर बंधे थे। आग की तपिश के बाद वे भी इधर-इधर भागने की कोशिश करने लगे। आग की च्वाला बढ़ता देख कैलाश सिंह, भूपेंद्र सिंह, खीम सिंह आदि मौके पर पहुंचे। उन्होंने गोशाला में बंधे जानवरों को खोलकर बाहर निकाला। गोशाला जलकर राख हो गई। यदि पड़ोसियों की नजर समय पर आग पर नहीं पड़ती तो जानवर गोशला में जिदा जल जाते। सामाजिक कार्यकर्ता गणेश सुरकाली ने पशुपालन को अधिक से अधिक मुआवजा देने की मांग की है। ग्रामीणों की सूचना के बाद राजस्व उपनिरीक्षक कुंदन प्रसाद मौके पर पहुंचे। उन्हेांने अपनी रिपोर्ट तैयार कर तहसील प्रशासन को सौंप दी है।

विशेष