नेतागिरी

कांग्रेस में नेता प्रतिपक्ष को लेकर विधायक हैं आमने सामने

उत्तराखंड (Uttarakhand) में आखिरकार भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने सीएम के लिए पुष्कर सिंह धामी पर मुहर लगाई है. लेकिन राज्य में कांग्रेस (Congress) अभी तक नेता प्रतिपक्ष के नाम पर फैसला नहीं कर सकी है. राज्य में नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी कांग्रेस को मिलनी तय है. लेकिन पार्टी में इस पद के लिए कई दावेदार हैं और अपना अपना दावा कर रहे हैं. वहीं धारचूला के कांग्रेस के विधायक हरीश धामी ने नेता प्रतिपक्ष के लिए दावा किया है और इसके लिए कांग्रेस आलाकमान और नेताओं को धमकी तक दे डाली है. फिलहाल देहरादून में कांग्रेस के नेताओं की चुनाव में हार को लेकर बैठक चल रही है और कहा जा रहा था कि इस बैठक में नेता प्रतिपक्ष के नाम पर फैसला किया जाएगा.

राज्य में सदन के नेता के रूप में चयन के बाद अब कांग्रेस को विपक्ष का नेता तय करना हैऔर निवर्तमान नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, बाजपुर विधायक यशपाल आर्य, धारचूला विधायक हरीश धामी, बद्रीनाथ विधायक राजेंद्र भंडारी इस पद के लिए दौड़ में आगे बताए जा रहे हैं. वहीं द्वाराहाट के विधायक मदन बिष्ट ने भी खुद को दौड़ में शामिल होने का संकेत दिया. हालांकि उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष का फैसला विधायक दल और आलाकमान को लेना है. लेकिन राज्य में निवर्तमान नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह इस पद के लिए दावा कर रहे हैं. लेकिन हरीश रावत गुट के विधायक प्रीतम का विरोध कर रहे हैं और उनका तर्क है कि किसी दूसरे वरिष्ठ विधायक को इस बार ये पद मिलना चाहिए. हालांकि प्रीतम को प्रदेश प्रभारी के साथ कई अन्य नेताओं का समर्थन है.

कांग्रेस कर रही है हार की समीक्षा

वहीं देहरादून में कांग्रेस के नेता चुनाव में मिली हार की समीक्षा कर रहे हैं. दिल्ली से पहुंचे नेता विधायकों और नेताओं से मिल रहे हैं. वह बातचीत के आधार पर रिपोर्ट तैयार कर आलाकमान को देंगे.

हरीश रावत और गोदियाल के चुनाव हारने से प्रीतम हुए मजबूत

फिलहाल राज्य में पूर्व सीएम हरीश रावत और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के विधानसभा चुनाव हारने के बाद प्रीतम सिंह मजबूत हुए हैं और नेता प्रतिपक्ष के लिए उनका दावा मजबूत माना जा रहा है. वहीं धारचूला से कांग्रेस विधायक हरीश धामी ने भी नेता प्रतिपक्ष के लिए दावा किया है और उन्होंने कहा कि अगर उन्हें इस पद पर नियुक्त नहीं किया गया तो वह पार्टी में अपने भविष्य को लेकर फैसला कर सकते हैं.

Leave a Response