देश/प्रदेश

प्रवासियों को पर्यटन से जोड़ने की कवायद तेज, होम स्टे योजना पर फोकस

पौड़ीः ग्रामीण क्षेत्रो में अब पर्यटन की संभावनाओं को तलाशा जा रहा है. जिससे पहाड़ लौटे युवाओं को यहीं पर ही स्वरोजगार से जोड़ा जा सके. इसके लिए पर्यटन विभाग जिले के विभिन्न ब्लॉकों में भ्रमण कर प्रवासियों से मुलाकात कर रहा है. साथ ही उन्हें योजनाओं की जानकारी दे रहा है. पर्यटन विभाग की मानें तो कुछ ऐसे भी आवेदक हैं, जो कि क्षेत्र में काम करना चाहते हैं. उन्हें स्वरोजगार की शुरुआत के लिए सभी नियमों की जानकारी दी जा रही है. जिससे युवा अपने गांव में ही पर्यटन के क्षेत्र में कार्य कर अपनी आजीविका चला सकें. वहीं, होम स्टे योजना पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है.

पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिंह ने बताया को प्रवासियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए इन दिनों ग्रामीण क्षेत्रों का मुवायना कर पर्यटन की संभावनाओं को तलाशा जा रहा है. जिससे पहाड़ लौटे युवा अच्छी खासी आमदनी पहाड़ में ही कर सकें. इसके लिए ग्रामीण क्षेत्र के धार्मिक स्थलों का प्रचार-प्रसार कर पर्यटकों को इन क्षेत्रों में लाने और उन्हें ग्रामीण क्षेत्रों में ठहराने की व्यवस्थाओं पर जोर दिया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि इसके लिए इस बार ग्रामीण क्षेत्रों में होम स्टे योजना पर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है. जिससे गांव के खाली मकानों को होम स्टे में तब्दील कर स्वरोजगार का जरिया बनाया जा सके. इसके लिए युवाओं और ग्रामीणों को प्रेरित किया जा रहा है. जिसमें सरकार सब्सिडी भी मुहैया करा रही है. साथ ही ज्यादा संख्या में आवेदक स्वरोजगार योजना के भागीदार बन सके.

विशेष