राष्ट्रीय

मोहाली में इंटेलिजेंस दफ्तर पर RPG हमले का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

पंजाब पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. पंजाब पुलिस ने मोहाली में पुलिस इंटेलिजेंस मुख्यालय पर RPG हमले के मुख्य आरोपी चढ़त सिंह को मुंबई से गिरफ्तार कर लिया. पंजाब पुलिस ने केंद्रीय एजेंसी और महाराष्ट्र एटीएस के साथ इस ऑपरेशन को अंजाम दिया. चरत सिंह कनाडा स्थित आतंकी संगठन बब्बर खालसा इंटरनेशनल के आतंकवादी लखबीर सिंह लांडा का सहयोगी है.

पंजाब के मोहाली में इस साल मई में पुलिस इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर की बिल्डिंग में ब्लास्ट हुआ था. इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर पर RPG दागा गया था. इसके बाद आरोपी फरार हो गए थे. हालांकि, इस हमले में कोई जख्मी नहीं हुआ था. पंजाब पुलिस ने बताया था कि इस हमले का मास्टरमाइंड लखवीर सिंह लांडा है.

डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि पुलिस इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर पर आरपीजी हमले का मुख्य आरोपी मुंबई से गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस के मुताबिक, तरनतारन के रहने वाले चढ़त सिंह ने दो लोगों के साथ मिलकर इस हमले को अंजाम दिया था. इसके अलावा इसमें निशान सिंह की भी भूमिका है. इसी ने दोनों लोगों को शेल्टर किया था और आरपीजी मुहैया करवाई थी. निशान सिंह को पंजाब पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.

पुलिस के मुताबिक, लखवीर सिंह लांडा तरनतारन का रहना वाला है. वह हरविंदर सिंह रिन्दा का करीबी है. वो कनाड़ा में है. 2017 में उसने देश छोड़ दिया था. पाकिस्तान की आईएसआई की मदद से पुलिस इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर पर हमले को अंजाम दिया गया.

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने इस मामले में दो आतंकियों को गिरफ्तार किया था, इनमें एक नाबालिग भी शामिल था.  दिल्ली पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार अर्शदीप सिंह का हरियाणा में 4 अगस्त को मिले आईडी वाले मामले से भी संबंध था. वहीं, नाबालिग आतंकी को सलमान खान को मारने की सुपारी दी गई थी. पुलिस के मुताबिक, लॉरेंस बिस्नोई और जग्गू भगवानपुरिया गैंग ने नाबालिग को दीपक सुरकपुर और मोनू डागर के साथ सलमान खान को मारने का काम दिया गया था.

Leave a Response