देश/प्रदेश

कोटद्वार: ट्रेंचिंग ग्राउंड में मरे हुए जानवरों को फेंकने पर लोगों में भरा गुस्सा, बताया महामारी का खतरा

कोटद्वार. उत्तराखंड  के पौड़ी गढ़वाल जिले में कोटद्वार के लकड़ी पड़ाव इलाके में मौजूद ट्रेंचिंग ग्राउंड  में दर्जनों मवेशियों के शव मिलने से लोगों में गुस्सा भर गया है. ट्रेंचिंग ग्राउंड में मरे हुए मवेशियों के शव मिलने से इलाके के भड़के हुए लोगों ने नगर निगम  के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

कूड़ा डालने वाली गाड़ियों की आवाजाही पर लोगों ने लगाया रोक

ट्रेंचिंग ग्राउंड में कूड़ा डालने वाली गाड़ियों की आवाजाही पर रोक लगाते हुए लोगों ने इलाके में महामारी का खतरा बताया है. लोगों का कहना है कि एक ओर खोह नदी में कूड़ा डालकर नदी को जहरीला किया जा रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ पशुओं के शव भी ट्रेंचिंग ग्राउंड में डाले जा रहे है. इससे इलाके में महामारी फैलने का खतरा बढ़ गया है.

स्थानीय लोगों का कहना है कि लकड़ी पड़ाव इलाके के ट्रेंचिंग ग्राउंड में 17 मवेशियों के शव पड़े हुए हैं, जिन्हें कोई देखने सुनने वाला नहीं है. अन्य पशु-पक्षी आकर इन्हें नोचते हैं खाते हैं, जिससे कि इलाके में महामारी फैल सकती है.

जांच के बाद की जाएगी कार्रवाई

वहीं नगर निगम प्रशासन मामले की जांच कराने बात कह रहा है. कोटद्वार एसडीएम योगेश मेहरा ने कहा कि मवेशियों के शव किसी व्यक्ति द्वारा फेंके गए हैं या नगर निगम के कर्मचारियों की लापरवाही के कारण फेंके गए हैं, इसकी जांच की जा रही है. जांच के बाद तथ्यों के सामने आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

विशेष