देश/प्रदेश

कोटद्वार: जमाखोरी और कालाबाजारी को लेकर प्रशासन अलर्ट, सात सेक्टरों में बांटा शहर

कोटद्वार: स्थानीय प्रशासन ने आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति सुनिचित रखने और जमाखोरी पर अंकुश लगाने के लिए नगर निगम को सात सेक्टरों में विभाजित किया है. साथ ही दुगड्डा को पृथक सेक्टर बनाया है. सभी सेक्टरों में मजिस्टेड और सेक्टर पुलिस अधिकारी की तैनाती कर दी गई है.

एसडीएम योगेश मेहरा ने नगर निगम सभागार में व्यापारियों के जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक में शासन स्तर पर 31 मार्च तक लॉकडाउन की जानकारी दी. कोटद्वार नगर निगम क्षेत्र में गोखले मार्केट, लाल बत्ती चौक से स्टेशन रोड तहसील चौक से पटेल नगर बाजार, लाल बत्ती चौक से देवी रोड पर दुर्गापुरी बाजार तक, दुर्गापुरी से किशनपुर कण्वाश्रम क्षेत्र, सिद्धबली से संपूर्ण स्नेह क्षेत्र और लाल बत्ती चौक से कौड़िया चेकपोस्ट बालासौड़ क्षेत्र को सात सेक्टरों में बांटा गया है. इसके अलावा नगर निगम क्षेत्र के बाहर दुगड्डा क्षेत्र को आठवां सेक्टर बनाया गया है.

letter

.

एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि लोग जमाखोरी कर रहे हैं, जिसे रोकने के लिए कोटद्वार नगर क्षेत्र को सात सेक्टरों में बांटा है. सेक्टर प्रभारियों की और सेक्टर मजिस्ट्रेट की नियुक्ति कर दी गई है. अधिकारियों की ड्यूटी जिस क्षेत्र में है उस क्षेत्र में इनको देखना होगा कि वहां पर जो आवश्यक सेवाओं से अतिरिक्त दुकानें खुली है, उन पर कार्रवाई करें. कोई व्यक्ति जमाखोरी तो नहीं कर रहा है, कोई व्यापारिक प्रतिष्ठान मूल्य से अधिक दामों पर सामान तो नहीं भेज रहा है. ऐसे में इस सब की रिपोर्ट शाम 4:00 बजे तक प्रशासन को देनी होगी.

विशेष