देश/प्रदेश

जयपुर की कंपनी ने ने एंड्रोयड यूजर्स के लिए बनाया फ्लैश स्कैन एप

जयपुर. चीन से तनातती के बाद केंद्र सरकार ने कैम स्कैनर, क्लीन मास्टर, टिक-टॉक जैसी 59 चाइनीज ऐप्स को बैन कर दिया है। भारत अकेला देश नहीं जो चाइनीज ऐप्स का बहिष्कार कर रहा है। चीन खराब गुणवत्ता वाले उत्पाद देने की वजह से दुनिया भर में ट्रेंड कर रहा है।

यूजर की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए जयपुर स्थित सॉफ्टवेयर कंपनी इनोवाना थिंकलैब्स लिमिटेड ने कैम स्कैनर ऐप का एक विकल्प तैयार किया है जिसका नाम है फ्लैश स्कैन। यह एंड्रॉयड मोबाईल फोन यूजर्स के लिए उपलब्ध है। इसमें क्रॉपिंग सुविधा का उपयोग करके, आप डाक्यूमेंट के उस हिस्से का चयन कर सकते हैं जिसे आप रखना चाहते हैं और बाकी हिस्से को हटा सकते हैं।

जिनके पास स्कैनर की सुविधा नहीं उनके लिए एप फायदेमंद
कंपनी ने पिछले काफी समय से यूजर की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए नई तकनीक से बहुत सी ऐप्स जैसे टैरो लाईफ, डेली होरोस्कोप एंड एस्ट्रोलोजी ऐप और गेम्स जैसे स्नेक बीट्स और राईज अप लव बनाए हैं जिन्हें यूजर्स द्वारा काफी पसंद किया गया है। कंपनी के डायरेक्टर मि. चन्दन गर्ग ने बताया कि फलैश स्कैन ऐप उन यूजर्स के लिए बहुत फायदेमंद होगी जिनके पास डॉक्यूमेंट स्कैन करने के लिए कंम्प्यूटर या स्कैनर उपलब्ध नहीं हैं। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से मुफत में डाऊनलोड किया जा सकता है।

विशेष