देश/प्रदेश

भारत-USA के बीच 3 अरब डॉलर की डिफेंस डील

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे के दूसरे दिन दोनों देशों के बीच रक्षा सौदे पर मुहर लग गई है. भारत और अमेरिका के बीच करीब 3 अरब डॉलर की डिफेंस डील पर मुहर लगी है. इन सौदे में अमेरिका से 24 एमएच-60 रोमियो हेलिकॉप्टर और 6 एच 64ई अपाचे हेलिकॉप्टर भारत लेगा. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दोनों देशों के प्रतिनिधिमंडल के बीच हैदराबाद हाउस में हुई बातचीत में इस डिफेंस डील पर सहमति बनी है.

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि 3 अरब डॉलर से ज्यादा के डिफेंस डील से दोनों देशों के रक्षा संबंध और मजबूत होंगे. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, ‘हमने भारत-अमेरिका पार्टनरशिप के महत्वपूर्ण पहलुओं पर चर्चा की, वह चाहे रक्षा हो या सुरक्षा. हमने एनर्जी स्ट्रैटिजिक पार्टनरशिप, ट्रेड और पीपल-टु-पीपल के बीच संबंधों पर भी चर्चा की. रक्षा क्षेत्र में भारत-अमेरिका के बीच मजबूत होता रिश्ता हमारी साझेदारी का महत्वपूर्ण पक्ष है.

अमेरिका के द्वारा निर्मित 24 एमएच 60 रोमियो हेलीकॉप्टर से भारतीय नौसेना की ताकत में इजाफा होगा, जिससे भारत की समुद्र में ताकत बढ़ेगी. भारतीय नौसेना इस तरह के मल्टीरोल हेलीकॉप्टर की मांग बहुत पहले से कर रही थी. एमएच-60 रोमियो सी हॉक हेलीकॉप्टर पनडुब्बियों और पोतों पर अचूक निशाना साधने में सक्षम हैं. यह हेलीकॉप्टर समुद्र में तलाश एवं बचाव कार्यों में भी उपयोगी हैं.

एमएच 60 रोमियो हेलीकॉप्टर दुश्मन के जंगी जहाजों को ट्रैक कर उनके हमलों को रोकने के लिए परिष्कृत लड़ाकू प्रणालियों- सेंसर, मिसाइल और टॉरपीडो से लैस हैं. भारत ने एमएच-60 रोमियो को 2.6 अरब अमेरिकी डॉलर में डील किया है. अमेरिका द्वारा निर्मित 6 एएच – 64 ई अपाचे हेलीकॉप्‍टर से भारतीय वायुसेना की ताकत में और भी इजाफा होगा. इन हेलीकॉप्‍टरों से वायु सेना की मारक क्षमता बहुत बढ़ जाएगी. एएच-64 ई अपाचे विश्‍व के अत्‍याधुनिक बहु-उपयोगी युद्धक हेलीकॉप्‍टरों में से एक है. भारतीय वायु सेना ने 22 अपाचे हेलीकॉप्‍टरों की खरीद के लिए अमेरिकी सरकार के साथ समझौता किया.

डोनाल्ड ट्रंप ने अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में आयोजित ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में सोमवार को ही इस डील का ऐलान कर दिया था. उन्होंने बताया था कि तीन अरब डॉलर कीमत के अत्याधुनिक सैन्य हेलिकॉप्टर और अन्य उपकरणों के लिए मंगलवार को समझौते किए जाएंगे, जिस पर आज दोनों देशों के बीच हैदराबाद में हस्ताक्षर किए गए हैं.

विशेष