देश/प्रदेश

पिथौरागढ़ में तीन दिन खराब मौसम के बाद धूप खिलने से मिली राहत

पिथौरागढ़ : तीन दिन मौसम खराब रहने के बाद रविवार को धूप खिलने से राहत मिली। दोपहर तक धूप-छांव का खेल चलता रहा। दोपहर के बाद मौसम साफ रहा। इस दौरान हिमनगरी मुनस्यारी में हल्की वर्षा हुई तो सुबह हिमालय की ऊंची चोटियों पर हल्का हिमपात हुआ। टनकपुर-तवाघाट हाईवे पर घाट के पास दो बार मलबा आने से मार्ग लगभग सात घंटे बंद रहा। भारी संख्या में वाहन फंसे रहे। जिले की अन्य सड़कों पर यातायात सामान्य रहा।

शनिवार रात को भी जिले भर में बारिश हुई। इस दौरान ऊंची चोटियों सहित पिथौरागढ़ नगर के सामने खड़ी थलकेदार और ध्वज चोटियों पर हल्का हिमपात हुआ। सुबह नगर सहित घाटी वाले क्षेत्रों में कोहरा छाया था। दोपहर तक धूप-छांव का खेल चलता रहा। दोपहर के आसपास बादलों और कोहरे के छंटने से धूप खिली।

शनिवार रात की बारिश से टनकपुर-तवाघाट हाईवे पर घाट के पास मलबा आने से मार्ग बंद रहा। सुबह मार्ग बंद होने से अखबार सहित मैदानी क्षेत्रों से आने वाले और जाने वाली रोडवेज, केमू की बसों सहित अन्य वाहन फंसे रहे। मलबा हटाए जाने के बाद मार्ग खुला और वाहन पास हुए। दोपहर से पूर्व घाटी चौकी से लगभग दो सौ मीटरदूर फिर से पहाड़ दरकने से मलबा आ गया। जिसके चलते मार्ग बंद हो गया। सायं तक आसपास मार्ग खुलने के आसार हैं। मार्ग बंद होने से सैकड़ों की संख्या में वाहन और यात्री फंसे हैं। आलवेदर रोड पर आए मलबे को हटाने का कार्य जारी रहा।

मुनस्यारी से मिली जानकारी के अनुसार सुबह ऊंची चोटियों पर हल्का हिमपात हुआ दोपहर तक बादलों की आवाजाही रही। दोपहर के आसपास हल्की बारिश भी हुई। बाद में यहां पर भी मौसम खुल चुका है। अलबत्ता ठंडी हवाएं चलने से तापमान में गिरावट है। थल -मुनस्यारी मार्ग यातायात के लिए खुला रहा। मुनस्यारी में न्यूनतम तापमान शून्य और अधिकतम तापमान 9 डिग्री रहा। जिले के सभी तहसीलों डीडीहाट, धारचूला, गंगोलीहाट, बेरीनाग, थल व गणाईगंगोली में मौसम खुलने से जनता को राहत मिली है।

विशेष