सुनो सरकार

जोशीमठ में लाता के ग्रामीणों ने सड़क की मांग को लेकर किया विरोध प्रदर्शन

जोशीमठ : विकासखंड जोशीमठ के सीमांत क्षेत्र लाता के ग्रामीणों ने सड़क की मांग को लेकर सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी व विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही उपजिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा।

सोमवार को जोशीमठ नगर के मुख्य चौराहे से तहसील प्रांगण तक ढोल नगाड़ों के साथ ग्रामीणों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए प्रदर्शन कर सरकार व लोक निर्माण विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ग्रामीणों का कहना है कि नंदा देवी मंदिर को जाने वाला डेढ़ किलोमीटर सड़क मार्ग छह वर्ष पूर्व स्वीकृत हो चुका है, जो कि अभी तक लंबित पड़ा हुआ है। साथ ही इस सड़क निर्माण के लिए लोक निर्माण विभाग की ओर से धार तोक से आगे कुछ कैटवाल बनाई गई, जो कि पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है। साथ ही दीवारों पर एक-एक मीटर लंबी दरारें पड़ चुकी हैं।

ग्रामीणों का कहना है कि अगस्त में नंदा राजजात देवरा यात्रा का आयोजन होना है, जो कि इसी सड़क मार्ग से होकर गुजरती है। लेकिन, सड़क की स्थिति इतनी दयनीय बनी हुई है कि नागरिकों को पैदल चलने में भी खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कहा कि शासन-प्रशासन को इस सड़क मार्ग को लेकर कई बार पत्राचार कर अवगत करवाया गया, लेकिन विभाग की ओर से अभी तक किसी प्रकार की कार्रवाई इस सड़क मार्ग पर नहीं की गई है, जिससे ग्रामीणों में खासा रोष बना हुआ है। ग्रामीणों ने कहा कि अगर शीघ्र सड़क निर्माण कार्य शुरू नहीं किया गया तो वे छह मई से आमरण अनशन के लिए बाध्य होंगे। ज्ञापन देने वालों में ग्राम प्रधान सरिता देवी, सरपंच धर्मेंद्र राणा, लक्ष्मण सिंह बुटोला, संग्राम सिंह, गणेशी देवी, सुशीला देवी, गंगोत्री देवी, कमला देवी, पूजा देवी सहित कई ग्रामीण शामिल थे।

Leave a Response