विविध

समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर 300 यूनिट घरेलू बिजली मुफ़्त देंगे

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव नजदीक हैं. सभी सियासी दल मतदाताओं को अपनी तरफ करने में जुटे हैं. इसी बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने जनता को मुफ्त बिजली का ऐलान किया है. अखिलेश यादव ने शनिवार को 2022 के विधानसभा चुनावों के बाद समाजवादी पार्टी के सत्ता में आने पर यूपी के सभी बिजली उपभोक्ताओं को 300 यूनिट मुफ्त घरेलू बिजली देने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि किसानों को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली भी उपलब्ध कराई जाएगी.

अखिलेश यादव ने पार्टी कार्यालय में नए साल के मौके पर बड़ी संख्या में एकत्र हुए कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, “यह पहला वादा है जो पार्टी के घोषणापत्र में शामिल होगा और यूपी के लोग जानते हैं कि सपा अपने घोषणा पत्र में किए गए सभी वादों को पूरा करती है.”

‘नया साल तब होगा, जब सरकार बनेगी’

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी और उसके कार्यकर्ताओं के लिए नया साल उस दिन से होगा जब यूपी में विधानसभा चुनाव के बाद सरकार बदलेगी. “सत्तारूढ़ बीजेपी ने अपने कुशासन के कारण समाज के सभी वर्गों के लिए जीवन कठिन बनाने की कोशिश की है. आइए हम बीजेपी सरकार द्वारा उत्पन्न नकारात्मकता को पीछे छोड़ दें और इस उम्मीद के साथ आगे बढ़ें कि नया साल सभी के लिए सुख, स्वास्थ्य और समृद्धि लेकर आए.”

फीडबैक के आधार पर लिया गया फैसला

यह घोषणा पार्टी कार्यकर्ताओं की प्रतिक्रिया के आधार पर की गई है, जिसमें जमीनी स्तर पर लोगों की मांगों को शामिल करने की मांग की गई थी. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, पार्टी ने जुलाई में एक व्यापक अभियान शुरू किया था, जिसमें पार्टी कार्यकर्ताओं से यह सुझाव देने के लिए कहा गया था कि पार्टी को घोषणापत्र में क्या शामिल करना चाहिए. सबसे आम मांग यह थी कि या तो बिजली की प्रति यूनिट दरों को कम किया जाए या राज्य भर के घरेलू उपभोक्ताओं को सीमित मुफ्त बिजली और किसानों को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली प्रदान की जाए.

जिसके बाद सपा प्रमुख ने बिजली विभाग के वित्तीय पहलुओं को ध्यान में रखते हुए ऐसी मांग की व्यवहार्यता निर्धारित करने के लिए आर्थिक विशेषज्ञों के साथ इस मुद्दे पर चर्चा की. अंत में, सपा के सरकार बनने के बाद यूपी के सभी घरों में 300 यूनिट मुफ्त बिजली की घोषणा करने का निर्णय लिया गया.

Leave a Response