विविध

घर में काफी समय से बनी हुई है कंगाली तो घर का वास्तु दोष है जिम्मेदार

सनातन धर्म में वास्तु शास्त्र को एक प्राचीन विज्ञान माना गया है. यह हमारे जीवन में कहीं ना कहीं बहुत अधिक प्रभाव डालता है. बहुत मेहनत और अथक प्रयासों के बावजूद भी अगर हमें किसी कार्य में सफलता नहीं मिल रही है, तो इसमें कहीं ना कहीं घर का वास्तु दोष भी जिम्मेदार है. गृह क्लेश, पैसे की तंगी, शारीरिक रोगों की समस्या से अगर लगातार जूझ रहे हो तो आपको अपने घर में वास्तु के अनुसार कुछ चीजों को रखना चाहिए, जिससे आपकी परेशानी दूर हो सके. आज आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताते हैं जिन्हें घर में रखने से सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है.

शंख

सनातन धर्म में शंख का बहुत बड़ा महत्व है, बहुत से देवी-देवताओं की हाथ में शंख दिखाया गया है. शंख सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है. जिस घर में शंख बजता है उस शंख ध्वनि से घर की नकारात्मक  ऊर्जा का नाश हो जाता है. समुद्र मंथन से प्राप्त रत्नों में शंख भी एक रत्न के रूप में बाहर निकला था. इसलिए इसे माता लक्ष्मी का सहोदर भाई भी कहा जाता है. शंख को घर में लाने से माता लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है. गृह क्लेश और आर्थिक तंगी से छुटकारा मिलता है, इसीलिए घर में शंख बजाना चाहिए, जिससे सकारात्मक ऊर्जा का संचार हो और घर में सुख शांति बनी रहे.

नारियल

सनातन धर्म में किसी भी शुभ कार्य को शुरू करने से पहले नारियल का बड़ा महत्व है. नारियल में चुनर बांधकर पूजा स्थान पर रखा जाता है. माता लक्ष्मी को अति प्रिय होने के कारण नारियल के चढ़ावे से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं, और घर में खुशहाली आती है. आर्थिक तंगी दूर होने से गृह क्लेश से छुटकारा मिलता है. नारियल घर में रखना शुभ माना जाता है.
माता लक्ष्मी और कुबेर की तस्वीर

माता लक्ष्मी और कुबेर दोनों एक दूसरे के पूरक हैं. दोनों ही धन के देवता हैं. दोनों ही वैभव और ऐश्वर्य के स्वामी हैं. माता लक्ष्मी और कुबेर की तस्वीर को घर में रखने से घर की परेशानियों से, व्यापार में होने वाली हानियों से बचा जा सकता है. प्रतिदिन माता लक्ष्मी और कुबेर की पूजा करने से घर में धन आगमन की संभावना बनी रहती है, और आर्थिक तंगी दूर होती है. जिससे गृह क्लेश और विभिन्न तरीके की समस्याओं का समाधान हो जाता है. घर में खुशहाली आती है, और जीवन सुखमय हो जाता है.

भगवान गणेश की प्रतिमा रखना

दुख हर्ता, विघ्नहर्ता, सिद्धिविनायक भगवान श्री गणेश की प्रतिमा को घर में स्थापित करने पर घर से दरिद्रता का नाश हो जाता है और घर में सुख शांति आती है. भगवान गणेश को संकट हर्ता भी कहा जाता है, इसीलिए घर की नकारात्मक ऊर्जा को भगाने और सकारात्मक ऊर्जा के संचार के लिए घर में गणेश भगवान की प्रतिमा जरूर रखनी चाहिए.

Leave a Response