देश/प्रदेश

कॉल सेंटर में युवती से हुई मुलाकात, शादी का झांसा देकर करता रहा दुष्कर्म

देहरादून :  शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म करने के मामले में शहर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। आरोपित के पिता लाल बहादुर शास्त्री अकादमी, मसूरी में चतुर्थ श्रेणी के पद पर कार्यरत हैं।

युवती की आरोपित से मुलाकात वर्ष 2015 में एक कॉल सेंटर में ट्रेनिंग के दौरान हुई थी। युवती का आरोप है कि शादी के नाम पर वह उसके साथ बीती जनवरी तक शारीरिक संबंध बनाता रहा।

पुलिस के अनुसार, शहर के कॉलेज से बीएससी करने के बाद युवती एक कॉल सेंटर में ट्रेनिंग के लिए गई। वर्ष 2015 में यहां उसकी मुलाकात उमाशंकर पुत्र लेखराज निवासी एलबीएस अकादमी, मसूरी से हुई। उमाशंकर ने उसके समक्ष शादी का प्रस्ताव रखा, लेकिन युवती ने इन्कार कर दिया।

इसके बाद भी उमाशंकर उससे बात करने और मनाने की कोशिश करता रहा। उसके द्वारा प्रेम जाहिर किए जाने के बाद वह शादी के लिए तैयार हो गई। इस दौरान वह उसे होटल आदि में लेकर जाता रहा। मगर जनवरी 2019 में उसने जब उमाशंकर से शादी करने को कहा कि वह साफ मुकर गया।

आरोप है कि उसने धमकी दी कि यदि उसने यह बात किसी को बताई उसे जान से मार देगा। मामले में पुलिस ने उमाशंकर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कोतवाल शिशुपाल नेगी ने बताया कि उमाशंकर एलबीएस में किसी अधिकारी का निजी सेवक है। मामला काफी पुराना है। साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं। साक्ष्य सामने आने के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

विशेष