सुनो सरकार

जौनसार बाबर में अदरक उत्पादक किसान उचित दाम न मिलने से हुए मायूस

Ginger producing farmers in Jaunsar Babar

जौनसार बावर क्षेत्र में अधिकतर लोग कृषि कार्य पर निर्भर हैं. यहां खेती किसानी बारिश पर निर्भर करती है. बरसात के मौसम में शुरुआती दौर में बारिश ना होने के चलते कई (Vikasnagar Ginger Production) किसानों के खेतों में ही कुछ अदरक की फसलें खराब होने के चलते समय से पहले ही मंडियों में पहुंचाने को मजबूर हो गए हैं. लेकिन किसानों को मंडियों में उचित दाम ना मिलने से उनके सामने परेशानी खड़ी हो गई है.

क्षेत्र की एकमात्र मंडी साहिया में इन दिनों अदरक उत्पादक (Ginger Production) किसान शुरुआती दौर में अदरक मंडी पर बिक्री के लिए पहुंच रहे हैं. मंडी में अदरक के मात्र 35 से ₹40 किलो ही दाम मिल रहे हैं. जबकि किसानों ने अदरक के बीज को महंगे दामों करीब ₹40 किलो खरीद कर खेतों में बिजाई कर हाड़ तोड़ मेहनत करके अदरक की पैदावार की है.

किसानों का कहना है कि समय से बारिश ना होने के कारण अदरक खेतों में खराब होने लगा है. अचानक ही लगातार पिछले महीने बारिश होने से अदरक की खेती पर बुरा असर पड़ा है. जिसके चलते अदरक उत्पादक किसानों के नुकसान झेलना पड़ रहा है. किसानों का कहना है बैंकों से किसान क्रेडिट कार्ड (Credit Card) से अदरक के बीज खरीदने को कर्ज भी लिया हुआ है. अगर मंडी में यही रेट मिलता रहा तो किसानों को बैंकों के कर्ज लौटने में दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा.

वहीं मंडी में भी उचित दाम ना मिलने के चलते मेहनत मजदूरी भी पूरी नहीं हो रही है. वहीं साहिया मंडी के आढ़ती मनोज पंवार का कहना है कि किसानों ने अदरक का बीज सस्ते दामों पर खरीदा था. लेकिन इस बार सामान्य ही अदरक का उत्पादन देखने को मिलेगा. अभी मंडी में शुरुआती दौर में अदरक की आवक हो रही है.

 

Leave a Response