देश/प्रदेश

हल्द्वानी में भी होगा कूड़े का निस्तारण

हल्द्वानी: गौलापार में बना ट्रेंचिंग ग्राउंड हल्द्वानी के लिए बड़ी समस्या बन चुका है. ट्रेंचिंग ग्राउंड से लगातार फैल रहे प्रदूषण से सभी परेशान हैं,

तो वहीं स्थानीय लोग भी ट्रेंचिंग ग्राउंड को हटाने के लिए लगातार आंदोलन कर रहे हैं. ऐसे में नगर निगम और पर्यावरण परिषद ने समस्या का समाधान निकालने की कार्रवाई शुरू कर दी है.

हल्द्वानी में कूड़े के निस्तारण का काम अब छत्तीसगढ़ की तर्ज पर किया जाएगा. पर्यावरण परिषद के उपाध्यक्ष प्रकाश हरबोला ने बताया कि ट्रेंचिंग ग्राउंड सबसे बड़ी समस्या बन चुका है.

समस्या से निजात पाने के लिए नगर निगम और पर्यावरण परिषद छत्तीसगढ़ की तर्ज पर कूड़ा निस्तारण के लिए काम कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि सूरत की एक कंपनी द्वारा कूड़ा निस्तारण के लिए कार्रवाई चल रही है. उन्होंने बताया कि कंपनी ने रोजाना 100 टन कूड़े की डिमांड की है, जिसके बाद ही प्लांट की स्थापना हो सकेगी.

हरबोला ने बताया कि हल्द्वानी सहित जिले के सभी नगर पालिका परिषद, नगर निकायों के कूड़े को इकट्ठा किया जाएगा और 5 एकड़ में प्लांट स्थापित किया जाना है,

जिसमें कूड़े का हाथों-हाथ निस्तारण किया जाएगा. उन्होंने बताया कि कूड़े से निकलने वाले पदार्थ सड़क निर्माण के दौरान केमिकल के तौर पर काम में आएंगे.

साथ ही कूड़े को खाद के तौर पर प्रयोग में भी लाया जाएगा. उन्होंने भरोसा दिलाया कि 3 महीने के भीतर ट्रेंचिंग ग्राउंड की समस्याओं से निजात पाया जा सकेगा.

विशेष