देश/प्रदेश

तीर्थनगरी में मनाया गया स्पर्श गंगा का स्थापना दिवस

ऋषिकेश: गंगा की स्वच्छता और निर्मलता को लेकर कार्य कर रही संस्था स्पर्श गंगा का आज स्थापना दिवस है. ऐसे में इस अवसर पर स्पर्श गंगा मिशन की राष्ट्रीय संयोजिका आरुषि पोखरियाल निशंक ऋषिकेश पहुंची थी.

आरुषि ने कहा कि स्पर्श गंगा की टीम लगातार गंगा की स्वच्छता को लेकर कार्य कर रही है. साथ उत्तराखंड के अलावा अन्य प्रदेशों में भी गंगा को स्वच्छता को लेकर कार्य किया जा रहा है.

स्पर्श गंगा स्थापना दिवस के मौके पर आरुषि पोखरियाल ने बच्चों के साथ मिलकर मां गंगा के जयकारे लगाए और बच्चों को गंगा की स्वच्छता के प्रति जागरुक किया. उन्होंने कहा कि सभी को गंगा की स्वच्छता का ध्यान रखना चाहिए तभी गंगा पूरी तरह से स्वच्छ हो पाएगी.

आरुषि ने कहा कि बच्चे ही कल का भविष्य हैं और इन्हें गंगा की स्वच्छता जागरुक करना अति आवश्यक है. उन्होंने बताया कि स्पर्श गंगा की टीम उत्तराखंड में गंगोत्री, टिहरी, चंबा, ऋषिकेश और हरिद्वार के साथ-साथ कई स्थानों पर लगातार कार्य कर रही है. जिसमें काफी सफलता भी हासिल हुई है.

हालांकि, आरुषि ने कहा कि गंगा के लिए जितना भी कार्य किया जाए वह कम है और स्पर्श गंगा टीम लगातार तबतक काम करती रहेगी. जबतक गंगा पूरी तरह से स्वच्छ और निर्मल नहीं हो जाती. उन्होंने कहा कि इसी संकल्प के साथ स्पर्श गंगा की टीम काम कर रही है.

विशेष