देश/प्रदेश

पूर्व पर्यटन मंत्री दिनेश धनै ने किया नए दल के गठन का ऐलान

टिहरी: उत्तराखंड के मुद्दों पर संघर्ष करने के लिए प्रदेश के पूर्व पर्यटन मंत्री दिनेश धनै ने उत्तराखंड जन एकता पार्टी बनाने का ऐलान किया है. दिसंबर माह तक पार्टी का चुनाव आयोग में रजिस्ट्रेशन हो जाएगा.

अगले साल जनवरी में पार्टी विधिवत रूप से अस्तित्व में आ जाएगी. जनवरी 2020 में ही पार्टी का पहला सम्मेलन आयोजित किया जाएगा.

पूर्व पर्यटन मंत्री दिनेश धनै ने कहा कि उत्तराखंड की जनता का बीजेपी और कांग्रेस से मोहभंग हो गया है. धनै ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार में जब वह मंत्री थे,

तब उन्होंने तत्कालीन सीएम से मूल निवास की बाध्यत समाप्त न करने की अपील की थी, लेकिन उनकी नहीं सुनी गई. धनै ने कहा कि उनकी पार्टी का प्रमुख लक्ष्य मूल निवास, जल-जंगल-जमीन, पलायन रोकना, रिवर्स पलायन और पहाड़ी क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाओं का रहेगा.

इसके साथ ही दिनेश धनै ने कहा कि टीएचडीसी का निजीकरण किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे, इसके लिए सड़क पर आंदोलन करेंगे.

साल 2022 में प्रदेशभर में चुनाव लड़ने के सवाल पर धनै ने कहा कि अभी यह पौधा है. जब पेड़ बनेगा तो सभी को पता चल जाएगा, फिलहाल पार्टी का गठन और उसे आगे बढ़ाना उनका लक्ष्य होगा.

बता दें, नई टिहरी में अपने आवास पर कार्यकर्ताओं की बैठक लेते हुए पूर्व मंत्री धनै ने नई पार्टी के लिए सुझाव मांगे. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने पार्टी का नाम उत्तराखंड जन एकता पार्टी रखने का सुझाव दिया. इसके साथ की कार्यकर्ताओं ने सर्वसम्मति से केंद्रीय अध्यक्ष बनाने का ऐलान किया.

विशेष