कुमाऊं

खटीमा: वन भूमि को किया अतिक्रमण मुक्त, पौधरोपण का कार्य शुरू

खटीमा: वन विभाग ने सुरई वन रेंज में हुए अवैध अतिक्रमण को हटा दिया है. अतिक्रमणकारी ने सिंचाई विभाग की लीज भूमि की आड़ में वन विभाग की भूमि पर कब्जा कर लिया था. जिसको नो वन रेंज के डेढ़ सौ से ज्यादा वनकर्मियों के द्वारा वन भूमि से अतिक्रमण हटाया. जिसके बाद भूमि में 14 हजार से ज्यादा पौधरोपण का काम शुरू कर दिया गया है.

बता दें कि, खटीमा वन प्रभाग की सुरई वन रेंज में काफी समय पहले एक बाघिन और उसके तीन बच्चों के मुख्य मार्ग पर टहलने का वीडियो वायरल हुआ था. जिसमें बाघिन के गले और कमर पर क्लच वायर कसा हुआ प्रतीत हो रहा था. डीएफओ तराई पूर्वी वन प्रभाग ने खटीमा के एसडीओ बाबूलाल को इस पूरे मामले की जांच सौंपी थी. जिस पर उन्होंने कैमरा टैपिंग के द्वारा पता लगाया कि टाइगर और उसके बच्चों की मूवमेंट जिस स्थान पर हो रही है वहां पर तारबाड़ क्लच वायर के द्वारा की गई है. उनके द्वारा सिंचाई विभाग से संपर्क करने पर पता चला की जमीन सिंचाई विभाग के अधीन न होकर वन भूमि है. जिस पर गोगी नामक शख्स द्वारा सिंचाई विभाग की लीज की आड़ में अवैध कब्जा कर खेती करने का काम किया जा रहा है.

एसडीओ खटीमा बाबूलाल के नेतृत्व में नो वन रेंज के डेढ़ सौ वनकर्मियों की टीम अवैध कब्जे से अतिक्रमण को हटाया गया. इस दौरान अवैध निर्माण को जेसीबी से हटाया गया. वहीं, क्लच वायर और स्टील के तार से की गई तारबाड़ को भी काट कर हटाया गया, ताकि कोई भी वन्य जीव घायल न हो सके.

विशेष