देश/प्रदेश

मंडी समिति व आढ़तियों के बीच टकराव के कारण किसान हो रहे परेशान

किच्छा : आढ़तियों और मंडी समिति के बीच टकराव बढ़ने के साथ ही आरोप प्रत्यारोप तेज हो गए हैं। इसके चलते रविवार को मंडी में सब्जी लेकर किसान नहीं पहुंच सके। इसके कारण इंदिरा गांधी खेल मैदान में सब्जी के ठेले लगा सब्जी बेच लोगों की जरुरत को पूरा किया गया। लॉकडाउन के दौरान सब्जी वितरण की व्यवस्था को लेकर वितरित किए गए पास मंडी समिति व आढ़तियों के बीच टकराव का कारण बन गए। जिसके चलते एक आढ़ती ने मंडी सचिव विनोद कुमार लोहुमी पर हमला कर दिया था। बीच बचाव के बाद मामले को जहां आढ़तियों ने निपटाने का दम भरा तो मंडी सचिव ने पुलिस को तहरीर देने के बाद भी मुकदमा दर्ज न करने का आरोप लगाया। मंडी चेयरमैन कमलेंद्र सेमवाल ने आढ़तियों पर मजबूरी का फायदा उठा कर सब्जी महंगे दामों पर बेच कालाबाजारी का आरोप लगा दिया। वहीं आढ़तियों ने मंडी प्रबंधन पर अपने खास लोगों को पास वितरण का आरोप लगा दिया। शनिवार को मंडी में सब्जी लेकर बहुत कम आढ़ती पहुंचे। यहीं हालत कामोवेश रविवार को भी रहीं और मंडी में सन्नाटा पसर गया। मंडी प्रबंधन ने जहां आढ़तियों पर सब्जी किसानों को मंडी में सब्जी न लेकर आने की नसीहत दी, जिसके चलते किसान अपनी सब्जी लेकर मंडी नहीं पहुंचा। फुटकर विक्रेताओं ने इंदिरा गांधी खेल मैदान में खुद ही ठेला लगा सब्जी बेची। वहीं आढ़तियों ने मंडी प्रबंधन के रवैये से खिन्न होकर सब्जी न बेचने का एलान किया है। जिससे मंडी प्रबंधन और आढ़तियों में टकराव की स्थित लगातार बनी हुई है।

विशेष