Home देश/प्रदेश कर्ज वसूली के दबाव में आकर किसान ने गटका जहर

कर्ज वसूली के दबाव में आकर किसान ने गटका जहर

0
कर्ज वसूली के दबाव में आकर किसान ने गटका जहर

लक्सरः कर्ज वसूली के लिए साहूकार द्वारा दबाव बनाने से परेशान एक किसान ने खेत में जहर गटक लिया. सूचना मिलने पर परिजन खेत में पहुंचे.

जिसके बाद आनन-फानन में उसे नजदीकी अस्पताल पहुंचाया. जहां पर डॉक्टरों ने किसान की गंभीर हालत को देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया है. फिलहाल किसान की हालत गंभीर बनी हुई है.

जानकारी के मुताबिक, लक्सर कोतवाली क्षेत्र के अकोदा गांव निवासी एक किसान ने बीते कुछ साल पहले एक साहूकार से सूद पर पैसा उधार लिया था.

उसके परिजनों के मुताबिक जितना पैसा साहूकार से लिया था, उसके कई गुना वह वापस भी लौटा चुके हैं, लेकिन साहूकार ने कई गुना ब्याज लगाकर तीन लाख की देनदारी निकाली है.

परिजनों का आरोप है कि बीते कई दिनों से साहूकार किसान पर सूद समेत पैसा वापस लौटाने का दबाव बना रहा था. बताया जा रहा है कि किसान ने गांव के ही एक व्यक्ति की जमीन बटाई पर ली है.

सोमवार को किसान ने उस जमीन पर खड़ी गन्ने की फसल काटी. इसी दौरान साहूकार ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर पहुंच गया और सूद के पैसों की एवज में उसकी फसल को उठाकर ले जाने की बात कही.

किसान ने उसकी मान मनौव्वल की, लेकिन साहूकार सूद के बदले फसल ले जाने की बात पर अड़ा रहा. आरोप है कि इसी से क्षुब्ध होकर किसान ने खेत में ही जहर गटक लिया. जिसके बाद बेहोश होकर गिर गया. जिससे साहूकार के होश उड़ गए. इसी बीच जानकारी मिलने के बाद परिजन भी मौके पर पहुंचे. जिसके बाद किसान को सरकारी अस्पताल पहुंचाया. जहां पर उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया.

वहीं, परिजनों का कहना है कि साहूकार ने खेत में जाकर मार पीट की और खेत में गन्ने की फसल को ले जाने पर अड़ गया. जिससे परेशान होकर उसने जहर गटक लिया.

वहीं, मामले पर कोतवाल वीरेंद्र सिंह का कहना है कि किसान की गंभीर हालत को देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है. अभी परिजनों की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई है. तहरीर मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

वहीं, परिजनों का कहना है कि साहूकार ने खेत में जाकर मार पीट की और खेत में गन्ने की फसल को ले जाने पर अड़ गया. जिससे परेशान होकर उसने जहर गटक लिया.

वहीं, मामले पर कोतवाल वीरेंद्र सिंह का कहना है कि किसान की गंभीर हालत को देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है. अभी परिजनों की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई है. तहरीर मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here