राष्ट्रीय

फर्जी वीजा और विदेशी ड्रग्स सप्लाई करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

ग्रेटर नोएडा पुलिस ने फर्जी वीजा, पासपोर्ट और विदेशी ड्रग्स सप्लाई करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने गिरोह के तीन विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए तीनों अपराधी नाइजीरियन मूल के हैं. ये लोग वीजा खत्म होने के बाद भी भारत में रह रहे थे.

एक महीने पहले भी ग्रेटर नोएडा पुलिस ने नाइजीरियन मूल के लोगों को गिरफ्तार किया था. ये लोग फ्रॉड सिम के जरिए लोगों से धोखाधड़ी करते थे. साथ ही विदेशी ड्रग्स दिल्ली-एनसीआर में सप्लाई करते थे. गिरोह के कुछ सदस्य तब से ही फरार चल रहे थे. नॉलेज पार्क थाना पुलिस ने दबिश देकर फरार चल रहे गैंग के सदस्यों को गिरफ्तार किया है.

10 हजार में फर्जी वीजा-पासपोर्ट मुहैया कराते थे 

मामले में ग्रेटर नोएडा के डीसीपी अभिषेक वर्मा ने बताया, “गिरफ्तार किए गए लोग काफी लंबे समय से दिल्ली के विकासपुरी में अपना गिरोह चला रहे थे. इनमें से एक अपराधी ने साइबर फ्रॉड करने की बात भी कुबूल की है. वह लोगों से इंस्टाग्राम और फेसबुक के जरिए लोगों से ठगी करता था.”

आरोपियों से ड्रग्स भी हुई बरामद 

डीसीपी ने आगे बताया, “गिरफ्तार नाइजीरियन आरोपियों के पास से ड्रग्स भी मिली है. इसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में लगभग 12 लाख रुपए बताई जा रही है. इसके अलावा फर्जी पासपोर्ट, 21 फर्जी वीजा, 16 एटीएम कार्ड, 30 मोबाइल, 30 फर्जी एक्टिवेट सिम, तीन स्टांप पैड, दो लैपटॉप, 48 फर्जी यूएस डॉलर, एक कार और एक स्कूटी बरामद की है.”

Leave a Response