देश/प्रदेश

दिल्ली पुलिस की सख्ती के बाद थमा पलायन, लोगों को रोक रही पुलिस

नई दिल्ली, एएनआइ।  Coronavirus Delhi Lockdown  कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है। केंद्र और राज्य सरकारें गरीबों और मजदूरों के लिए राहत की तमाम घोषणाएं कर चुकी हैं। इसके बावजूद दिल्ली-एनसीआर से महापलायन जारी है। इस बीच दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने लोगों से एक बार फिर से अपील की है कि लोग दिल्ली छोड़कर ना जाएं जहां पर हैं वहीं रहें सरकार ने पूरा इंतजाम किया हुआ है।

  • पिछले चार दिनों से दिल्ली से जारी मज़दूरों का पलायन पुलिस की सख्ती के बाद रुक गया है। वहीं दिल्ली यूपी गेट पर यूपी पुलिस एक ट्रक को रोका हुआ है।
  • दिल्ली-यूपी गेट पर पुलिस सभी वाहनों की चैकिंग कर रही है। किसी निजी वाहन में पलायन करने वाले मजदूर दिख रहे है तो उन्हें वाहन से नीचे उतारा जा रहा है।
  • दिल्ली से बड़ी संख्या में पैदल जा रहे लोगों के खिलाफ पुलिस रविवार को सख्ती बरत रही है। सड़कों पर अर्द्धसैनिक बल के जवानों के साथ ही पुलिस भी है। पलायन करने वालो को यूपी और आनंद विहार जाने से रोका जा है। ज़रूरत पड़ने पर पुलिस लाठी का इस्तेमात कर रही है।
  • आनंद विहार बस अड्डे पर जो मजदूर हैं वही सरकारी बसों से यूपी जाएंगे। पैदल वालों को यूपी जाने नहीं दिया जाएगा।
  • लॉकडाउन के चलते आनंद विहार बस अड्डे पर शांत माहौल है, शनिवार को बड़ी संख्या में गांव जाने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। यहां पर आपातकालीन सेवा के लिए  डीटीसी बसें लगाई गई हैं।
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने हरियाणा सरकार से रोडवेज की एक हजार बसें मांगी है। रेवाड़ी डिपो से उत्तर प्रदेश भेजी गई है 100 रोडवेज बसें। उत्तर प्रदेश व बिहार के श्रमिकों को लेकर रवाना हुई है स्थानीय डिपो की बसें। रेवाड़ी से गाजियाबाद तक लेकर गई है बसें श्रमिकों को। रोडवेज महाप्रबंधक नवीन कुमार ने बताया कि गाजियाबाद पहुंचने के बाद आगे उत्तर प्रदेश सरकार के निर्देशों पर चलेगी हरियाणा रोडवेज की बसें।
  • उधर, कोशांबी बस अड्डे की तरफ लोगो को नहीं जाने दिया जा रहा है। कोशांबी बस अड्डे में तैनात आरपीएफ के जवान
  • कौशांबी बस अड्डे पर आज सन्नाटा, यहां पुलिसकर्मी मौजूद हैं और नगर निगम द्वारा सफाई का काम करवाया जा रहा है।
  • साहिबाबाद में शनिवार को एक तरफ जहां हजारों लोगों ने अपने गांव की ओर प्रस्थान किया तो दूसरी ओर फर्रुखाबाद और उन्नाव जैसे जिलों में रहने वाले रिक्शा चालक और पानी सप्लायर रविवार को लोगों की मदद करने के लिए खुद सड़कों पर आ गए हैं। इन लोगों का कहना है कोरोना का संक्रमण ना फैले इस वजह से अपने गांव नहीं गए और लोगों की मदद करने के लिए यहां पर हैं।
  • दिल्ली से पलायन कर रहे दिहाड़ी मजदूर और जरूरतमंद लोगों से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर से लोगों को गांव ना जाने की अपील की। सीएम ने कहा कि जो जहां पर हैं वहीं पर रहें। केजरीवाल ने कहा कि सभी लोगों की रहने और खाने की व्यवस्था की गई है। अलग लोग गांव चले जाएंगे तो कोरोना गांव में भी पहुंच सकता है।

विशेष