देश/प्रदेश

गंगोलीहाट में चार दिन बाद भी नहीं हुई पेयजल आपूर्ति बहाल, अब मेरठ से ऑपरेटर के आने का इंतजार

drinking-water-supply-not-restored-even-after-four-days-in-gangolihat-of-pithoragarh-

गंगोलीहाट: शालीखेत पंपिंग योजना में खराब ट्रांसफार्मर को ठीक करने के लिए मेरठ से बुलाया गया ऑपरेटर गुरुवार को गंगोलीहाट नहीं पहुंच सका। जिस कारण क्षेत्र में पेयजल संकट गहराता जा रहा है। चार दिन बीतने के बाद भी आपूर्ति बहाल नहीं होने से क्षेत्रवासियों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। क्षेत्रवासियों ने अविलंब आपूर्ति बहाल नहीं होने पर अब सड़कों पर उतरने की चेतावनी दी है।

बीते सोमवार की सांय गंगोलीहाट नगर व उसके आसपास के गांवों को बड़ी आबादी को पेयजल आपूर्ति करने वाले शालीखेत पंपिंग योजना का विद्युत ट्रांसफार्मर फुंक गया। जिसके चलते क्षेत्र में पेयजल आपूर्ति ठप हो गई। क्षेत्र में पेयजल का अन्य कोई विकल्प नहीं होने से पेयजल संकट गहरा गया है। हालांकि विभाग द्वारा सड़क क्षेत्र से लगे इलाकों में टैंकरों से आपूर्ति की जा रही है, मगर आपूर्ति के सापेक्ष लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है। वहीं, सड़क से वंचित इलाकों में तो समस्या और भी गंभीर हो गई है। लोग प्राकृतिक स्रोतों से पेयजल आपूर्ति कर रहे हैं।

स्रोतों में सुबह से शाम तक लंबी लाइन लग रही हैं। लोगों का सारा समय पानी के इंतजाम में व्यतीत हो जा रहा है। विभाग के अनुसार ऑपरेटर की गुरुवार तक पहुंचने की संभावना थी, मगर ऑपरेटर गुरुवार सायं तक नहीं पहुंच सका। यदि शीघ्र ट्रांसफार्मर ठीक नहीं हुआ तो क्षेत्र में पेयजल संकट गंभीर होने की आशंका है। ========== ऑपरेटर के शुक्रवार तक पहुंचने की संभावना है। ऑपरेटर के पहुंचते ही ट्रांसफार्मर को ठीक कर लिया जाएगा। शीघ्र ही आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी। फिलहाल जलसंस्थान द्वारा टैंकरों से पानी का वितरण कर वैकल्पिक व्यवस्था की गई है।

विशेष