Latest Newsराष्ट्रीय

स्पाइसजेट के 90 पायलटों पर DGCA ने एयरक्राफ्ट उड़ाने पर लगाई रोक

नई दिल्ली, प्रेट्र। भारतीय विमानन नियामक DGCA ने स्पाइसजेट एयरलाइंस के 90 पायलटों को बोइंग 737 मैक्स एयरक्राफ्ट  उड़ाने से रोक दिया है। DGCA ने इन पायलटों को मैक्स एयरक्राफ्ट उड़ाने में सक्षम नहीं माना है। नियामक ने इसके लिए इन्हें दोबारा प्रशिक्षित करने की बात भी कही है।  स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने बुधवार को इस बात की पुष्टि की कि DGCA ने एयरलाइन के 90 पायलटों को मैक्स एयरक्राफ्ट उड़ाने पर रोक लगा दी है और इन्हें इसके लिए दोबारा ट्रेनिंग दिए जाने की बात भी कही है।

चूक के लिए जिम्मेवार के खिलाफ होगी कार्रवाई 

DGCA प्रमुख अरुण कुमार ने कहा, ‘फिलहाल हमने इन पायलटों के मैक्स एयरक्राफ्ट को उड़ाने पर रोक लगा दी है और इन्हें इसके लिए दोबारा ट्रेनिंग दी जाएगी।’ उन्होंने यह भी कहा कि ‘चूक के लिए जिम्मेवार पाए जाने पर नियामक की ओर से दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।’ स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने बुधवार को इस बात की पुष्टि की कि DGCA ने एयरलाइन के 90 पायलटों को मैक्स एयरक्राफ्ट उड़ाने पर रोक लगा दी है और इन्हें इसके लिए दोबारा ट्रेनिंग दिए जाने की बात भी कही है।

DGCA  ने की ट्रेनिंग प्रोफाइल की जांच

प्रवक्ता ने बताया स्पाइसजेट एयरलाइंस के पास 650 पायलट ऐसे हैं जिन्हें बोइंग 737 मैक्स को उड़ाने का प्रशिक्षण प्राप्त है। DGCA के पास इन 90 पायलटों का पूरा विवरण है जो इनके ट्रेनिंग प्रोफाइल में दिया गया है। इसके बाद ही DGCA ने इनपर कार्रवाई की है। सलाह के अनुसार , स्पाइसजेट ने कुल 90 पायलटों पर मैक्स एयरक्राफ्ट के संचालन पर रोक लगा दी है।

स्पाइसजेट एकमात्र भारतीय एयरलाइन है जिसकी फ्लीट में मैक्स एयरक्राफ्ट शामिल है। ace निवेशक झुनझुनवाला और विमानन दिग्गज आदित्य घोष और विनय दुबे की एयरलाइन अकासा एयर (Akasa Air) ने पिछले साल नवंबर में 72 मैक्स विमानों की खरीद के लिए बोइंग के साथ डील पर हस्ताक्षर किए थे। अकासा एयर को अब तक एक भी विमान नहीं मिला है।

Leave a Response