Latest Newsनेतागिरी

देहरादून में कल सैन्य धाम की नींव रखेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

देहरादूनः पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट उत्तराखंड सैन्य धाम के निर्माण को लेकर तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. इसी के तहत बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह देहरादून के गुनियाल गांव पुरुकुल में बनने जा रहे सैन्य धाम की नींव रखेंगे और भूमि पूजन करेंगे.

सैन्य धाम निर्माण की तैयारियां पूरी: देहरादून में बनाए जा रहे उत्तराखंड के सैन्य धाम के शिलान्यास को लेकर तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सैन्य धाम की नींव रखेंगे. वहीं, मंगलवार को तैयारियों को लेकर प्रदेश के सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने विधानसभा क्षेत्र में अंतिम चरण की बैठक की. बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परिकल्पना के मुताबिक उत्तराखंड में चारधाम हैं. इसके साथ ही उत्तराखंड में पांचवां धाम सैन्य धाम होना चाहिए. इस पर काम करते हुए देहरादून स्थित गुनियाल गांव पुरुकुल में 63 करोड़ रुपये की लागत से विशाल सैन्य धाम का निर्माण किया जा रहा है.

CDS बिपिन रावत ने नाम पर होगा मुख्य प्रवेश द्वार: सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने बताया कि गुनियाल गांव पुरुकुल में बन रहे इस सैन्य धाम का मुख्य प्रवेश द्वार देश के प्रथम CDS जनरल बिपिन रावत के नाम पर बनाया जा रहा है. उन्होंने बताया कि पिछले एक महीने से चल रही सैनिक सम्मान यात्रा के दौरान पहले विश्व युद्ध से लेकर आज तक के शहीदों के घर के आंगन से पवित्र मिट्टी एकत्र कर सैन्य धाम का 15 दिसंबर को भूमि पूजन किया जाना है.

204 शहीदों के परिजनों को सम्मानित किया जाएगा: वहीं, भूमि पूजन के दौरान देहरादून के 204 शहीदों के परिवारों को सम्मानित भी किया जाएगा. सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि किसी शहीद को वापस लाना उनके बस में नहीं है. लेकिन उनका सम्मान करना और उनकी यादों को जिंदा रखना हर एक नागरिक का परम कर्तव्य है. इस सैन्य धाम के निर्माण लक्ष्य उन सभी अमर शहीदों को श्रद्धांजलि देना है, जिन्होंने राष्ट्र रक्षा में अपने प्राणों की आहुति दी. भूमि पूजन के इस कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट और सीएम पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद रहेंगे.

सैन्य धाम की खासियत: खास बात यह है कि सैन्य धाम के लिए भूमि पूजन के अवसर पर उत्तराखंड के 1734 वीर शहीदों के परिवारों के आंगन की मिट्टी को यहां लाया जाएगा और उसी से भूमि पूजन होगा. वीर शहीदों के परिवारों के आंगन की मिट्टी लाने के लिए 15 नवंबर से प्रत्येक जनपद और ब्लॉक में शहीद सम्मान यात्रा निकाली गई है.

देहरादून के गुनियालगांव में लगभग 50 बीघा भूमि पर सैन्य धाम का निर्माण होगा. सैन्य धाम में पूजनीय बाबा हरभजन सिंह और जसंवत सिंह के मंदिर बनेंगे. धाम के अतिरिक्त यहां इतिहास और शौर्य गाथाओं की झांकी भी इस तरह सजाई जाएगी.

दिव्य शौर्य स्तूप बनेगा: सैन्यधाम में एक भव्य तथा दिव्य शौर्य स्तूप बनेगा, जो इसकी ख़ासियत होगा. यहां लाइट एंड साउंड शो, वीर गाथाओं के प्रसारण हेतु थिएटर, संग्रहालय भी बनाए जाएंगे. भारतीय थल सेना का प्रतीक टैंक, वायु सेना का प्रतीक लड़ाकू विमान एवं नौसेना के प्रतीक शिप भी यहां होंगे.

Leave a Response