देश/प्रदेश

दन्यां घाट सड़क चौड़ीकरण का खामियाजा भुगत रहे है नीचे बसे ग्रामीणों

दन्यां: दन्यां घाट सड़क चौड़ीकरण के दौरान अनियमितता का खामियाजा सड़क से नीचे निवास कर रहे लोगों को भुगतना पड़ सकता है। पोकलैंड मशीनों से अनाप सनाप ढंग से फेंका हुआ मलबा उनके मकानों को क्षतिग्रस्त कर सकता है। गुस्साए ग्रामीणों ने निर्माण स्थल पर विरोध प्रदर्शन कर मलबे को डंपिग जोन में ही फेंकने की मांग की है।

दन्यां से 13 किमी पिथौरागढ़ मोटर मार्ग में राजमार्ग के चौड़ीकरण का कार्य प्रगति में है। ध्याड़ी कस्बे से डेढ़ किमी पहले पोकलैंड मशीनों से पहाड़ कटान का कार्य चल रहा है। सड़क से ठीक नीचे निवास कर रहे भेटाबड़ौली के ग्रामीणों का कहना है कि मलबा सीधे उनके घरों के पास गिर रहा है। उनका आरोप है कि ठेकेदार पोकलैंड मशीनों से मलबे को डंपिंग जोन में जमा करने के बजाय सीधे ढलान पर नीचे को फैंक रहा है। गुस्साये ग्रामीणों ने आज निर्माण स्थल पर आकर विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने उप जिलाधिकारी भनोली को ज्ञापन प्रेषित करते हुए जांच की मांग की है। ज्ञापन में भेटाबड़ौली के ग्राम प्रधान सहित महेंद्र सिंह भैसोड़ा, गोविंद सिंह, नरेश कुमार जोशी, बचीराम, जगत राम, प्रेम कुमार, प्रहलाद सिंह, त्रिलोक सिंह, महिपाल सिंह सहित कई दर्जन लोगों के हस्ताक्षर हैं। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि मलबे को यदि डंपिंग जोन में नहीं फैंका गया तो समस्त ग्रामीण आंदोलन को बाध्य होंगे।

विशेष