देश/प्रदेश

Corona Virus से लड़ने को IIT रुड़की के छात्रों ने तैयार किया हैंड सैनिटाइजर

रुड़की। कोविड-19 के प्रसार के खतरे को कम करने और बुनियादी स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) रुड़की के दो छात्रों ने 150 लीटर (लगभग 1500 बोतल) से अधिक सैनिटाईजर बनाया है। इस सैनिटाइजर की खासियत ये है कि ये हर्बल हैंड सैनिटाइज है। इसके साथ ही स्टार्ट-अप हील-एग्नोस्टिक्स इनोवेशन प्राइवेट लिमिटेड की ओर से यह हैंड सैनिटाइजर संस्थान परिसर में मुफ्त में बांटा जाएगा।

आइआइटी रुड़की में सेंटर ऑफ नैनोटेक्नॉलॉजी के रिसर्च स्कॉलर और हील-एग्नोस्टिक्स इनोवेशन के सह संस्थापक सिद्धार्थ शर्मा और मैटलर्जिकल और मैटीरियल इंजीनियरिंग विभाग के रिसर्च स्कॉलर वैभव जैन ने हर्बल हैंड सैनिटाइजर तैयार किया है। संस्थान के प्रोफेसर डॉ. इंद्रनील लाहिड़ी और डॉ. देबरूपा लाहिड़ी के तत्वावधान में यह कार्य किया गया है। रिसर्च स्कॉलर सिद्धार्थ शर्मा ने बताया कि यह 80 फीसद आइसोप्रोपेनॉल/इथेनॉल से बना है।

रिफिलिंग स्टेशन लगाने की भी योजना 

डा. देबरूपा लाहिड़ी ने बताया कि सैनिटाइजर की बोतलें डीन के कार्यालय को सौंप दी गई हैं, जो परिसर में वितरण के लिए एक नोडल केंद्र के रूप में काम कर रहा है। संस्थान परिसर में उपयुक्त जगह पर एक रिफिलिंग स्टेशन लगाने की भी योजना बनाई जा रही है। सतीश जायसवाल, कनिके राजेश, दिव्यांशु लाहिड़ी और विशाल पंवार ने इस प्रयास को सफल बनाने के लिए तीन दिन लगातार काम किया है।

पालिका क्षेत्र में चला सैनिटाइजेशन अभियान 

शिवालिकनगर नगर पालिका क्षेत्र में मंगलवार को अभियान चलाकर सैनिटाइजेशन किया गया। जिलाधिकारी सी रविशंकर और नगर पालिका अध्यक्ष राजीव शर्मा ने संयुक्त रूप से अभियान की शुरुआत की। दो स्प्रे टैंकर, 10 अत्याधुनिक स्प्रे मशीन और 10 गाड़ियों के साथ पूरे क्षेत्र में स्प्रे का छिड़काव किया गया। अभियान के दौरान सभी सड़कों, प्रतिष्ठानों, घरों और मुख्य द्वारों पर स्प्रे किया गया। नगर पालिका अध्यक्ष राजीव शर्मा ने बताया कि शिवालिक नगर में संयुक्त अभियान चलाकर प्रत्येक वॉर्ड के लिए अलग-अलग टीमों का गठन कर उन्हें वार्डों में भेजा जा रहा है।

विशेष