देश/प्रदेश

एम्स ऋषिकेश में अभी तक लगभग 1300 कोरोना संदिग्ध मरीजों की जांच की गई, सभी जांच नेगेटिव आयी

ऋषिकेश: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में अभी तक लगभग तेरह सौ कोरोना संदिग्ध मरीजों की जांच की गई है. सभी जांच नेगेटिव आयी है. साथ ही 28 मार्च को एम्स में कोरोना जांच की मशीन स्थापित की गई. जिसमें एक हफ्ते के अंदर कुल 88 जांच एम्स में ही किए गए हैं.

कोरोना के चलते शासन-प्रशासन द्वारा देशभर के हॉस्पिटलों की सेवाएं दुरस्त की जा रही हैं. जिसको देखते हुए ऋषिकेश एम्स प्रशासन द्वारा भी सतर्कता बरती जा रही है. मरीज बेड से लेकर नए-नए मेडिकल उपकरण लगाए जा रहे हैं.

कोरोना संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट के लिए पहले सैंपल हल्द्वानी भेजे जाते थे. 28 मार्च को एम्स में ही कोरोना संदिग्ध मरीजों की जांच के लिए मशीन लगा दी गयी है. जिससे कोरोना संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट जल्द मिल रही है. वहीं अभी तक लगभग एम्स ऋषिकेश ने तेरह सौ मरीजों के जांच सैंपल हैं.

डीन एम्स हॉस्पिटल अफेयर्स डॉ यू.बी.मिश्रा ने बताया कि अभी तक लगभग तेरह सौ जांच हो चुकी हैं. जिनमें एम्स में लगाई गई मशीन में कुल 88 जांच हुई है.

विशेष