देश/प्रदेश

उत्तराखंड: राज्य में ‘कोरोना वायरस’ के पहले मामले से हड़कंप, एक IFS अधिकारी की जांच में कोरोना की हुई पुष्टि

उत्तराखंड: राज्य में ‘कोरोना वायरस’ के पहले मामले से हड़कंप, एक IFS अधिकारी की जांच में कोरोना की हुई पुष्टि

देहरादून : देश के अन्य राज्यों के बाद उत्तराखण्ड में कोरोना में  भी पहला मामला सामने आया है। एक भारतीय वन सेवा (IFS)  अधिकारी में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। इस मामले के प्रकाश में आने के बाद उत्तराखंड के सरकारी सिस्टम में हलचल है।

जानकारी के मुताबिक सम्बंधित प्रशिक्षु आईएफएस अधिकारियों का एक दल ट्रेनिंग के लिए विदेश गया था। जो स्पेन, रूस और फिनलैंड के भ्रमण करके वापस देहरादून आया था। जिसके सदस्यों के सैंपल जांच हेतू हल्द्वानी के सुशीला तिवारी लैब भेजे गए।

उत्तराखंड के अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने IFS अधिकारी की रिपोर्ट में कोरोना के पॉज़िटिव होने की पुष्टि की है। उनका कहना है कि अभी तक 29 सैम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं। जिनमें 18 की रिपोर्ट मिल चुकी है। उसमें 17 सैंपल निगेटिव पाए गए जबकि एक मे कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

गौरतलब है कि भारतीय वन सेवा की प्रशिक्षण अकादमी देहरादून के FRI में स्थित है। जहां देश भर से चुने गए इस कैडर के अफसरों की ट्रेनिंग होती है। उन ट्रेनी अधिकारियों का एक दल विदेश भ्रमण के लिए गया था। जिसके एक सदस्य में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

विशेष