Latest Newsउत्तराखंड

प्रदेश उपाध्यक्ष का अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करने की साजिश

उत्तराखंड (Uttarakhand) में कांग्रेस (Congress) के प्रदेश उपाध्यक्ष का अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करने की साजिश का खुलासा हुआ है. प्रदेश उपाध्यक्ष ने पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अशोक कुमार (DGP Ashok Kumar) से अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने की शिकायत की है और इस मामले में डालनवाला कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि आरोपी ने ब्लैकमेल के लिए रुपये भेजने के लिए अपना एकाउंट नंबर भी प्रदेश उपाध्यक्ष को भेजा है.

जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह, गांव धरवाल, टिहरी गढ़वाल के निवासी हैं और उन्होंने डीजीपी से शिकायत की है कि उन्हें ब्लैकमेल करने की साजिश है और आरोपी उनसे पैसा मांग रहा है. उनका कहना है कि 30 सितंबर की सुबह उनके मोबाइल वाट्सएप पर एक वीडियो कॉल आई और व्यस्त होने के कारण फोन नहीं उठाया. लेकिन उसी दिन शाम को फिर से वीडियोकॉल आई और कॉल रिसीव करने पर उसमें एक अश्लील वीडियो दिखाया गया. लेकिन उन्होंने तुरंत कॉल काट दी और दौरान अज्ञात ने उसका वीडियो भी बना लिया. इसके बाद दोबारा उसी नंबर से वीडियो कॉल आने पर उन्होंने उस नंबर को ब्लॉक कर दिया. इसके बाद एक व्यक्ति की वीडियो कॉल दूसरे नंबर से आई लेकिन उन्होंने अंजान नंबर के कारण फोन नहीं उठाया और इसके बाद उसने धमकी भरा मैसेज भेजा. 

खुद को साइबर क्राइम का अफसर बता रहा है साजिशकर्ता

जोत सिंह का कहना है कि मैसेस में ब्लैकमेल करने वाले अपनी पहचान दिल्ली की साइबर क्राइम ब्रांच के अफसर गौरव मल्होत्रा के रूप में बताई. साजिशकर्ता का कहना है कि अश्लील वीडियो यूट्यूब पर ना चले इसके लिए उन्हें एक लाख रुपये देने होंगे. इसके लिए साजिशकर्ता गौरव मल्होत्रा ने सुनील परिहार का खाता नंबर भी भेजा है.

पुलिस ने शुरू की जांच

जोत सिंह का कहना है कि वह एक राजनीतिक पार्टी के सदस्य हैं और वीडियो कॉल कर उसकी छवि धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है. राज्य के डीजीपी ने शुक्रवार को डालनवाला कोतवाली की पुलिस को मामला दर्ज करने के आदेश दिया. डालनवाला कोतवाली पुलिस का कहना है कि मामला चार माह पुराना है और शिकायत मिलने में देरी होने के कारण मामला दर्ज किया गया है. इस मामले की जांच की जा रही है और जो साक्ष्य शिकायतर्ता ने उपलब्ध कराएं है. उसके आधार पर जांच की जाएगी और आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा.

Leave a Response