नेतागिरी

बेतहाशा महंगाई को लेकर कांग्रेसियों ने प्रदेश भर में निकाला आक्रोश

देहरादून: बढ़ती महंगाई को लेकर कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने इंदिरा नगर से लसियाल चौक तक पैदल मार्च निकाला और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. साथ ही सरकार से महंगाई को कम करने की मांग की है.

महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का हल्लाबोल: कांग्रेस महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ता गुरु नानक इंटर कॉलेज के निकट इंदिरा नगर में एकत्रित हुए. जहां से पैदल मार्च निकालते हुए लसियाल चौक तक जुलूस निकाला. इस दौरान कांग्रेसियों ने बढ़ती महंगाई के खिलाफ नारेबाजी और प्रदर्शन किया. लालचंद शर्मा ने कहा देश और प्रदेश में प्रचंड बहुमत की भाजपा सरकार ने जनता को चुनावी लाभ के लिए भ्रमित करते हुए महंगाई कम किए जाने का वादा किया था, लेकिन भाजपा सरकार के कार्यकाल में पेट्रोल-डीजल, गैस व खाद्य पदार्थों की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हो रही है. इससे महंगाई चरम पर पहुंच गई है और आम आदमी का जीना दूभर हो गया है.

कांग्रेस नेताओं के निशाने पर सरकार: पूर्व विधायक राजकुमार ने भी बढ़ती महंगाई पर सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा भाजपा ने सरकार बनते ही महंगाई कम करने का वादा किया था, लेकिन इसके ठीक उलट सरसों का तेल पेट्रोल डीजल रसोई गैस के दाम बढ़ते जा रहे हैं. जिससे आम जनता त्रस्त हो चुकी है, लेकिन भाजपा सरकार को आम जनमानस की दिक्कतों से कोई सरोकार नहीं है. इसके विरोध में कांग्रेस पार्टी का धरना प्रदर्शन आगे भी जारी रहेगा.

खटीमा में कांग्रेस का हल्लाबोल: वहीं, गैस के साथ डीजल-पेट्रोल और आम जरूरी वस्तुओं की बढ़ी कीमतों और महंगाई के खिलाफ खटीमा में कांग्रेसी महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं ने शहर के मुख्य चौक पर किया प्रदर्शन. कांग्रेस महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष रेखा सोनकर के नेतृत्व में महिला कार्यकर्ताओं ने महंगाई के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया. खटीमा मुख्य चौक पर महिला कार्यकर्ताओं ने सिलेंडरों को फूल माला पहनाकर बढ़ती गैस की कीमतों के खिलाफ अपना आक्रोश प्रकट किया.

हरिद्वार में प्रदर्शन: हरिद्वार जिले में भी पेट्रोल का दाम 100 के पार हो गया है, जिसका असर अब आम जनता की जेब पर दिखने लगा है. बता दें कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने से ट्रांसपोर्टेशन पर भी असर पड़ता है. जिससे रोजमर्रा की चीजों के भी दामों में वृद्धि हो जाती है. जिस कारण आम जनता का बजट बिगड़ जाता है. इसी के विरोध में आम लोगों ने तेल के बढ़ते दामों पर सरकार से नाराज भी दिखे. वहीं, विपक्षी पार्टियां भी लगातार महंगाई को लेकर सरकार पर सवाल उठा रही हैं.

Leave a Response