देश/प्रदेश

26 मार्च को श्रीनगर में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी कांग्रेस

प्रदेश कांग्रेस की ओर से आगामी 26 मार्च को श्रीनगर गढ़वाल में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन आयोजित किया जाएगा।

यह जानकारी देते हुए प्रदेश कांग्रेस की निवर्तमान प्रवक्ता गरिमा दसौनी ने बताया कि हल्द्वानी की लालटेन पद यात्रा में जुटे जनसमर्थन के बाद अब प्रदेश कांग्रेस कमेटी एक बड़ा कार्यक्रम पौड़ी जनपद के श्रीनगर में आयोजित करने जा रही है। बताया कि राज्य सरकार की जनविरोधी व राज्य विरोधी नीतियों का पर्दाफाश करने के लिए कांगे्रसजन बड़ी संख्या में 26 मार्च को श्रीनगर में एकत्रित होंगे।

इसके बाद प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में ‘पोल खोल यात्रा’ में शामिल होकर राज्य सरकार को बेनकाब किया जाएगा। साथ ही जनता को उनके साथ किए जा रहे छल के प्रति जागरूक करेंगे। उन्होंने बताया कि उपरोक्त कार्यक्रम की तैयारी बैठक 12 मार्च को देहरादून प्रदेश मुख्यालय में आहूत की गई है। जिसमें पौड़ी जनपद के सांसद प्रत्याशी, पूर्व विधायक, विधानसभा प्रत्याशी, जिलाध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्ष, प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारी आदि शामिल होंगे।

विजय सारस्वत बने कांग्रेस अनुशांगिक संगठन प्रभारी

कांग्रेस के प्रदेश संगठन महामंत्री विजय सारस्वत को कांग्रेस पार्टी के अनुशांगिक संगठनों का प्रभारी मनोनीत किया गया है। उन्हें यह जिम्मेदारी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह की ओर से सौंपी गई है।

विजय सारस्वत अविभाजित उत्तर प्रदेश में वर्ष 1985 में एनएसयूआइ के प्रदेश अध्यक्ष रहे थे। साथ ही वह एनएसयूआइ के राष्ट्रीय महासचिव, उत्तराखंड बनने के बाद प्रदेश कांग्रेस में महासचिव का दायित्व निभाते आ रहे हैं।

उन्हें कांग्रेस का अनुशांगिक संगठनों का प्रदेश प्रभारी बनाए जाने पर पूर्व मंत्री अजय सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष वीरेंद्र प्रताप, प्रदेश सचिव नवीन जोशी, पीके अग्रवाल, राजेंद्र शाह, याकूब सिद्धिकी, एसपी सिंह, गरिमा दसौनी आदि ने बधाई दी। कहा कि उनके कुशल मार्गदर्शन में पार्टी के अनुशांगिक संगठन सक्रिय रूप से पार्टी कार्यक्रमों में भागीदारी करेंगे।

सीएए के विरोध में जारी रखेंगे धरना-प्रदर्शन

सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में धरने पर बैठे मुस्लिम समाज के लोगों ने सरकार से नागरिकों के हित में फैसला लेने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकार ऐसे फैसले ले, जिसमें समाज के सभी वर्गों का हित हो। उन्होंने दिल्ली में हुई ङ्क्षहसा के दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की।

परेड ग्राउंड स्थित धरनास्थल पर मुस्लिम समाज के लोगों का धरना जारी रहा। लोगों ने केंद्र सरकार से सीएए, एनआरसी और एनपीआर के फैसले को वापस लेने की मांग की। धरने पर बैठी रजिया बेग ने कहा कि सरकार को संविधान बचाने के लिए और नागरिकों के हित में निर्णय लेना चाहिए।

विशेष