कुमाऊं

पैर फिसलने से बरसाती नाले में बहे विधायक हरीश धामी, बाल-बाल बची जान

पिथौरागढ़: प्रदेश के पहाड़ी और मैदानी जिलों में इन दिनों बरसात के कारण जन-जीवन अस्त-व्यस्त है. प्रदेश के कई जनपदों से भूस्खलन और बादल फटने जैसी खबरें आ रही हैं. स्थानीय जनप्रतिनिधि और नेता भी लगातार अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर हालातों का जायजा ले रहे हैं. इसी कड़ी में आज शाम पिथौरागढ़ के धारचूला से कांग्रेस विधायक हरीश धामी बंगापानी तहसील में आपदा के बाद हालात का जायजा लेने जा रहे थे, जहां वे तेज बरसाती नाले की चपेट में आ गये. देखते ही देखते धामी नाले के बहाव के साथ बहने लगे. गनीमत ये रही कि कार्यकर्ताओं ने धामी को समय रहते पकड़ लिया.

बताया जा रहा है कि हरीश धामी लगातार बरसात से हुए नुकसान का जायजा लेने अपनी विधानसभा में जगह-जगह जा रहे हैं. इसी सिलसिले में वे आज पिथौरागढ़ के बंगापानी तहसील क्षेत्र में थे. जहां हरीश धामी चिमड़ियागाड़ नाले को पार करते समय मलबे के तेज बहाव में संतुलन खो बैठे और वे नाले में गिर पड़े. नाले में बहने से विधायक के मुंह, नाक और कानों में भी मलबा घुस गया. नाले में बहने के दौरान बोल्डरों की चपेट में आने से विधायक को चोटें भी आई हैं.

गनीमत ये रही कि मौके पर मौजूद उनके कार्यकर्ताओं ने उन्हें समय रहते पकड़ लिया. नहीं तो कोई भी बड़ी घटना घट सकती थी. यह पूरी घटना वहां खड़े मौजूद किसी व्यक्ति ने कैमरे में कैद की. इस घटना में हरीश धामी के पैर में हल्की-फुल्की चोटें आई हैं. फिलहाल, विधायक को प्राथमिक उपचार दे दिया गया है.

बता दें इन दिनों उत्तराखंड में लगातार हो रही बारिश की वजह से जनजीवन अस्त व्यस्त है. पिथौरागढ़ में भी कई आपदाग्रस्त गांवों में एसडीआरएफ, एनडीआरएफ के साथ पुलिस के जवान लगातार राहत और बचाव कार्य में लगे हैं. ऐसे में जनप्रतिनिधि भी लगातार अपने क्षेत्रों में पहुंचकर लोगों की कुशलक्षेम ले रहे हैं.

विशेष