देश/प्रदेश

कॉंग्रेस ने ऑर्गनाइजर्स पर लगाया मिसमैनेजमेंट का आरोप

गोवाः पॉलिटिकल पार्टी इंडियन नेशनल कॉंग्रेस ने 50वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया के ऑर्गनाइजर्स पर इंडिया के सबसे बड़े फिल्म फेस्टिवल को ढंग से मैनेज न करने का आरोप लगाया है.

पार्टी ने आरोप लगाया कि फेस्विटल अथॉरिटी के मिसमैनेजमेंट की हद तो यह है कि कि वेटरन एक्टर अमिताभ बच्चन जो कि 20 नवंबर को हुए फेस्टिवल के उद्घाटन समारोह में गेस्ट ऑफ ऑनर थे, उनके ड्राइवर के गुम हो जाने के बाद अपने रास्ते पर असहाय छोड़ दिया.

यह घटना जब हुई तब अभिनेता गोवा को मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और चीफ सेक्रेटरी के साथ थे.

पार्टी ने ऑर्गनाइजर्स पर इस इवेंट में कल्चरल प्रोगाम्स ऑर्गनाइजर करने से लेकर कराने तक और स्थल के निर्माण और सजावट में भारी भ्रष्टाचार का भी आरोप लगाया है.

पॉलिटिकल पार्टी द्वारा जारी किए गए स्टेटमेंट में कहा गया, ‘हवाई टिकटों में अनियमितता और रहन-सहन के कॉन्ट्रैक्ट्स में फेर बदल क्योंकि जो अनुमानित खर्च का ब्योरा था और जो बजट आया उसमें बहुत बड़ी बढ़त थी.’

स्टेटमेंट में आगे है, ‘कई स्थानों पर समारोह के शुरू हो जाने के दो दिन बाद भी सजावट पूरी नहीं हुई है. ईएसजी की ओर से यह पूरी तरह फेलियर रहा है, जिसने स्थान की सजावट में करोड़ों का खर्च किया है.’

स्टेटमेंट के मुताबिक, ‘फॉल्टी टिकट सिस्टम के बाद एक बार फिर कई सीटें खाली रह गईं और डेलिगेट्स किसी फिल्म को टिकट्स न होने की वजह से नहीं देख पाए.’

आगे कहा गया, ‘ईएसजी(ऑर्गनाइजर्स) हर साल बिना किसी स्टडी और बीते कल से सबक लिए नया टिकटिंग सर्विस सिस्टम लागू कर देते हैं. ऑर्गनाइजर्स का मुख्य मकसद हर साल नए सर्विस प्रोइवाइड को शामिल करना है जिससे उन्हें हर साल कमिशन्स मिल सके.’

इल्जाम के बाद गोवा प्रदेश कमेटी के जनरल सेक्रेटरी अमरनाथ पणजीकर ने डिमांड किया है कि ‘जो लोग ईएसजी में अनियमितता और घोटालों का जिम्मेदार है उनके खिलाफ सीधा-सीधा एक्शन लिया जाए’.

विशेष