उत्तराखंड

हल्द्वानी में जाम में फंसे कमिश्नर और डीआईजी ने चौकी प्रभारी को हटाया

हल्द्वानी: हल्द्वानी में कुमाऊं कमिश्नर और डीआईजी की गाड़ियां जाम में फंस गईं. इसकी गाज चौकी इंचार्ज पर गिर गई. डीआईजी के निर्देश के बाद एसएसपी ने टीपी नगर पुलिस चौकी इंचार्ज को हटा दिया है. टीपी नगर चौकी प्रभारी संजीत राठौर को वनभूलपुरा थाने में ट्रांसफर कर दिया गया है.

जाम में फंसे कमिश्नर और डीआईजी: बताया जा रहा है कि गुरुवार को कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत और डीआईजी कुमाऊं नीलेश आनंद भरणे हल्द्वानी से रुद्रपुर को जा रहे थे. इस दौरान ट्रांसपोर्ट नगर के पास पहुंचते ही उनकी गाड़ियां जाम में फंस गईं. डीआईजी और कमिश्नर को काफी देर तक जाम का सामना करना पड़ा. इसकी जानकारी डीआईजी ने जिला पुलिस नियंत्रण कक्ष को दी. जिसके बाद पुलिस ने आकर मौके से जाम को खुलवाया.

चौकी प्रभारी पर गिरी जाम की गाज: काफी देर जाम में फंसने के बाद दोनों अधिकारियों ने पुलिस के काम पर नाराजगी जाहिर की. जिसके बाद डीआईजी ने चौकी इंचार्ज के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. जिसके बाद एसएसपी नैनीताल पंकज भट्ट ने टीपी नगर पुलिस चौकी प्रभारी संजीत राठौर को चौकी प्रभारी पद से हटाते हुए वनभूलपुरा थाने में ट्रांसफर कर दिया है.

डीआईजी ने क्या कहा: वहीं इस पूरे मामले में डीआईजी कुमाऊं नीलेश आनंद भरणे का कहना है कि पुलिस कार्यप्रणाली में किसी भी तरह की कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. चौकी प्रभारी द्वारा लापरवाही की गई है. जिसके बाद उनको चौकी से हटाया गया है.

Leave a Response