देश/प्रदेश

बाल दिवस पर बच्चों को दी बाल अधिकारों की जानकारी

टिहरी : ग्रामीण क्षेत्र विकास समिति (राडस) व बाल कल्याण समिति ने संयुक्त रूप से रानीचौरी मे कार्यक्रम आयोजित कर बच्चों को उनके अधिकारों की जानकारी दी। बाल अधिकारों के प्रति जागरुक रहने के लिए उन्हें प्रेरित भी किया गया। बाल दिवस पर राडस के सुशील बहुगुणा ने बच्चों को संबोधित करते हुये कहा कि बच्चों को देश का भविष्य माना जाता है, इसलिए जरुरी है कि वह अपने अधिकारों के विषय में जाने, यदि वह अपने अधिकारों के प्रति जागरुक होंगे तो कोई भी व्यक्ति उनका शोषण नहीं कर पाएगा।

इस विषय में हमें रोज ही कोई ना कोई ऐसी खबर सुनने को मिलती है, जो बाल अधिकारों के हनन, बाल मजदूरी और शोषण से जुड़ी होती है। इसलिए यह काफी जरुरी है कि बच्चे और उनके अभिभावक बाल अधिकारों के विषय में पूर्ण रुप से शिक्षित हो। यह कार्य हमारे देश के तरक्की से भी जुड़ा हुआ है क्योंकि अधिकतर विकासशील देशों में बाल मजदूरी जोर-जबरदस्ती या बच्चों के मजबूरी का फायदा उठाकर ली जाती है और इसके बदले में उन्हें मिलने वाली वेतन या मजदूरी बहुत ही कम होती है, जो कि एक प्रकार का शोषण ही है।

तो इस प्रकार से हम कह सकते हैं बाल मजदूरी ना सिर्फ एक देश की छवि खराब करता है बल्कि अन्य कई प्रकार की समस्याओं को भी जन्म देता है और यही कारण है की बाल दिवस का दिन हमारे लिए इतना महत्वपूर्ण है। तो आइये इस दिन का सही उपयोग करते हुए जन-जन तक बाल अधिकारों की आवाज पहुंचाये और उन्हें इसके प्रति जागरुक करें। इस अवसर बच्चो ने खेल खेलकर व मिठ्ठाई वितरित की गयी। कार्यक्रम मे रश्मि शुभम सोनम मोहित पल्लवी अछत शिवानी नीलम सोनम पूनम साछी अंजली महेश अमन सोनू संजना आयुष दीपक अभिनेष अछत व संस्था की कुम्भी बाला भट्ट व अमित व लछमी आदी उपस्थित थे।

विशेष