उत्तराखंड

मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने टिहरी में आयोजित ‘जनसंवाद’ कार्यक्रम में सुनीं जनता की समस्याएं

टिहरीः मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज टिहरी दौरे पर रहे. यहां उन्होंने बौराड़ी स्थित नगर पालिका हॉल में आयोजित आपका सुझाव हमारा संकल्प जनसंवाद कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की. इस दौरान सीएम धामी ने विभिन्न विकासखंडों के 18 ग्राम प्रधानों को मनरेगा, एनआरएलएम, स्वयं सहायता समूहों में कार्यों एवं ग्राम स्तर पर उत्कृष्ट कार्य करने पर सम्मानित किया. कार्यक्रम में सीएम धामी ने पंचायत प्रतिनिधियों से सीधे संवाद किया और उनकी समस्याएं सुनीं.विभिन्न विकासखंडों से आए करीब 400 प्रधानों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपेक्षा के अनुसार तीसरा दशक उत्तराखंड का होगा. केदारनाथ धाम से पीएम मोदी ने पूरी दुनिया को संदेश दिया कि 21वीं सदी का तीसरा दशक उत्तराखंड का होगा. राज्य जब 25वां स्थापना दिवस मना रहा होगा, तब राज्य सभी क्षेत्रों में देश का अग्रणीय एवं आदर्श राज्य होगा.

उन्होंने कहा हमारी सरकार प्रत्येक क्षेत्र में विकास का लक्ष्य रख रही है. जिसके अंतर्गत प्रत्येक विभाग को आने वाले 10 सालों के लिए रोड मैप तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं. लोगों की राय एवं संवाद विकास में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. पलायन, रोजगार, स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे तमाम मुद्दों पर आने वाले सालों में किस तरह सरकार और जनता के बीच समन्वय बनाकर कार्य किया जाए, इसके लिए सरकार ने बोधिसत्व विचार श्रृंखला कार्यक्रम की शुरुआत की है. जिसके माध्यम से सरकार विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर चुके अनुभवी लोगों से सुझाव ले रही है, उन्होंने कहा कि इसके आधार पर विकास की रूपरेखा बनाई जाएगी.

राजनीति में लोकनीति पर कामः सीएम धामी ने कहा 25 साल में उत्तराखंड देश का श्रेष्ठ राज्य बने इसके लिए विकल्पों रहित संकल्प के मंत्र के साथ सरकार लगातार कार्य कर रही है. सरकार प्रत्येक व्यक्ति से आए सुझाव पर कार्य करेगी. साथ ही कहा कि देवस्थानम बोर्ड पर जन भावनाओं के अनुरूप फैसला लिया गया. सरकार जो घोषणा करेगी, उनका शासनादेश भी जारी करेगी. साथ ही हर घोषणा से पहले उनका वित्तीय आकलन भी किया जाता है. उन्होंने कहा कि हम राजनीति में लोकनीति पर कार्य करेंगे.उन्होंने कहा सरकार ने लंबे समय से चली आ रही मांगों को देखते हुए पीआरडी जवानों, उपनल कर्मियों, ग्राम प्रधानों, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का मानदेय बढ़ाने का कार्य किया है. उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारियों को मिलने वाली पेंशन को भी सरकार ने बढ़ाने का कार्य किया है. खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए राज्य में नई खेल नीति लाई गई है. साथ ही कहा कि हमारी सरकार युवाओं को रोजगार देने पर कार्य कर रही है.

विभिन्न विभागों में 24,000 पदों पर भर्ती प्रक्रिया जारीः मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि विभिन्न विभागों में रिक्त चल रहे 24,000 पदों पर भर्ती प्रक्रिया चालू है. उन्होंने कहा कि लंबे समय से चली आ रही पुलिस भर्ती की मांग को भी सरकार ने पूरा करने का कार्य किया है. आपदा के दौरान सरकार एवं प्रशासन ने पूरी निष्ठा से कार्य किया. जिसके फलस्वरूप बड़े पैमाने पर होने वाले जानमाल के नुकसान से राज्य को बचाया.

उन्होंने कहा हाल ही में टिहरी क्षेत्र के लिए की गई 21 योजनाओं का शिलान्यास विकास की राह पर मील का पत्थर साबित होगा. सरकार सरलीकरण समाधान और निस्तारण के मंत्र के साथ आगे बढ़ने का कार्य कर रही है. इस दौरान उन्होंने सीडीएस जनरल बिपिन रावत को श्रद्धांजलि देते हुए उनके निधन को देश के साथ ही उत्तराखंड के लिए बड़ी क्षति बताया.वहीं, विभिन्न विकास खंडों से आए ग्राम प्रधानों ने जन संवाद कार्यक्रम में (tehri Jan samvad program) मनरेगा में कार्य दिवस बढ़ाए जाने, लोक परंपरा के अनुसार होमस्टे योजना का क्रियान्वयन, बंजर भूमि पर स्वरोजगार हेतु अलग से योजना लाए जाने जैसे विभिन्न सुझाव से मुख्यमंत्री को अवगत कराया. जिस पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सभी सुझावों को गंभीरता से निर्णय लेने की बात कही.

Leave a Response