देश/प्रदेश

रुद्रप्रयाग विधानसभा चुनाव के दौरान आचार संहिता उल्लंघन के मामले में मंत्री हरक सिंह रावत के खिलाफ आरोप तय

रुद्रप्रयाग: वर्ष 2012 में विधानसभा चुनाव के दौरान आचार संहिता उल्लंघन के मामले में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के खिलाफ आरोप तय कर दिए गए। मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) की अदालत में चल रहे मामले की सुनवाई अब होली के बाद होगी। सुनवाई के दौरान कैबिनेट मंत्री भी अदालत में उपस्थित थे।

वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में हरक सिंह रावत रुद्रप्रयाग विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे थे। तब रिटर्निग अधिकारी ने उनके खिलाफ रुद्रप्रयाग थाने में मामला दर्ज कराया। आरोप है कि रुद्रप्रयाग के निकट सिद्धसौड़ नामक स्थान में प्रचार के दौरान रिटर्निग अधिकारी ने उनके समर्थकों के वाहन की तलाशी लेनी चाहिए तो उनसे अभद्रता की गई। आरोप है कि स्वयं हरक सिंह भी समर्थकों के साथ इस मामले में शामिल थे।

हरक सिंह रावत व उनकेचार समर्थक वीरेन्द्र बुटोला, अंकुर रौथाण, बीर सिंह बुडेरा व रघुवीर सिंह के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने और चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया। वर्ष 2013 में पुलिस ने न्यायालय में आरोप पत्र कर दिया था। हरक सिंह रावत के अधिवक्ता बीएस भंडारी ने बताया कि मामले की अगली सुनवाई मार्च में होली के त्यौहार के बाद होगी।

विशेष