चम्पावत

लोहाघाट क्षेत्र में सात दिन में पहुंचे 2500 प्रवासी

लोहाघाट : लॉकडाउन में देश के विभिन्न राज्यों में फंसे प्रवासी बड़ी तादात में अपने घरों को लौट रहे हैं। अकेले लोहाघाट राजकीय पॉलीटेक्निक में एक सप्ताह में 2500 प्रवासी लाए गए। इन सभी को थर्मल स्क्रीनिंग के बाद गांवों के स्कूलों में बने क्वारंटाइन सेंटरों में भेजा गया। सोमवार को 750 प्रवासी रोडवेज की बसों एवं निजी वाहनों से यहां पहुंचे। देर शाम तक लोगों की स्क्रीनिंग का कार्य जारी था।

एसडीएम आरसी गौतम ने बताया कि लोहाघाट के राजकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज में लोहाघाट, पाटी, बाराकोट विकास खंडों के प्रवासियों को थर्मल स्क्रीनिंग के लिए लाया जा रहा है। जांच के बाद स्वस्थ्य पाए गए सभी लोगों को उनके गांवों के स्कूलों एवं पंचायत भवनों में बने सेंटरों में क्वारंटाइन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि रविवार को 222 लोग अपने निजी गाड़ियों से और 42 लोग परिवहन निगम की बस से यहां पहुंचे। बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी का स्वास्थ्य परीक्षण किया। स्वस्थ्य पाए जाने पर सभी को टैक्सियों से क्वारंटाइन सेंटरों तक पहुंचाया गया। एसडीएम ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से क्वांटाइन सेंटरों में नियमों का उल्लंघन करने के मामले सामने आ रहे हैं। नियमों का उल्लंघन करने वालों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।