देश/प्रदेश

चमोलीः गैरसैंण को राजधानी बनाए जाने पर जश्न का माहौल, CM त्रिवेंद्र ने मंत्रियों के संग लगाए ठुमके

चमोलीः गैरसैंण को उत्तराखंड राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित करने के बाद राज्य में जश्न का माहौल है. प्रदेशवासियों में खुशी की लहर है. इसी क्रम में भराड़ीसैंण स्थित विधानसभा परिसर में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मंत्रियों, विधायकों सहित अन्य लोगों ने होली खेलने के बाद जमकर लगाए ठुमके.

विधानसभा बजट सत्र का दूसरा दिन उत्तराखंड के लिए बहुत ही खास रहा है. ऐसा इसलिए क्योंकि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने न सिर्फ बतौर वित्त मंत्री बजट का अभिभाषण ही नहीं पढ़ा बल्कि, इस दौरान उन्होंने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की घोषणा भी की. जिससे विधानसभा में उपस्थित सभी मंत्री और विपक्षी दल के नेता सभी हैरान रह गए.

वहीं, त्रिवेंद्र रावत सरकार के तीन वर्ष पूरे होने को हैं. ऐसे में सीएम त्रिवेंद्र ने उत्तराखंड की जनता को गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने के एलान के रूप में बड़ा तोहफा दिया है. इस फैसले का स्वागत करते हुए गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान से जुड़े लोगों ने भी खुशी व्यक्त करते हुए सीएम त्रिवेंद्र को धन्यवाद दिया.

हालांकि. गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान के कार्यकर्ताओं का कहना है कि यह लड़ाई अभी सिर्फ आधी है. गैरसैंण को पूर्णकालीन राजधानी बनाने को लेकर उनकी ये लड़ाई आगे भी जारी रहेगी. बता दें कि गैरसैंण को स्थायी राजधानी बनाने की मांग को लेकर गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान के कार्यकर्ता 535 दिन से लगातार धरने पर बैठे हुए हैं.

ग़ैरसैण ग्रीष्मकालीन राजधानी की घोषणा होने के बाद प्रदेश भर में जश्न का माहौल है. एक ओर देहरादून भाजपा कार्यालय में कार्यकर्ताओं ने जोरदार आतिशबाजी की तो वहीं भराड़ीसैंण स्थित विधानसभा परिसर के बाहर भारी संख्या में स्थानीय लोगों ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का आभार व्यक्त किया.

साथ ही गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री ने स्थानीय जनता, विधानसभा अध्यक्ष, विधायकों के साथ, ढोल की थाप पर नाचकर जश्न मनाया. हालांकि होली के पर्व में अभी वक्त है लेकिन गैरसैंण में समय से पहले होली खेली गई और विधानसभा परिसर के बाहर मुख्यमंत्री समेत तमाम लोगों ने जमकर गुलाल उड़ाया और होली खेली.

वहीं, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया कि हमने गैरसैंण को लेकर एक कदम आगे बढ़ाया है और उनकी टीम ने जो निर्णय लिया है वो जनभावनाओं के अनुरूप है. साथ ही बताया कि न सिर्फ उत्तराखंड के लोगों की ओर से बधाई आ रही है बल्कि, देश के तमाम जगहों और विदेशों में जो उत्तराखंड के लोग रह रहे हैं उनकी भी बधाई आ रही है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंसीधर भगत ने बताया कि जन भावनाओं के अनुरूप यह फैसला लिया गया है. यही नहीं दूर-दूर से बधाई देने वालों का सिलसिला लगातार जारी है.

विशेष