देश/प्रदेश

प्रमोशन में आरक्षण खत्म किए जाने से जश्न का माहौल, अब सीधी भर्ती में आरक्षण का करेंगे विरोध

पौड़ी: पदोन्नति में आरक्षण को समाप्त करने के बाद उत्तराखंड जन एसोसिएशन की प्रदेश कार्यकारिणी ने मंडल मुख्यालय पहुंचकर जश्न मनाया. प्रदेश कार्यकारिणी के अध्यक्ष दीपक जोशी ने कहा कि इस आंदोलन को सफल बनाने में सभी माताओं, बहनों और स्टेशन से जुड़े लोगों ने अहम भूमिका निभाई है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से राज्य सरकार ने नया रोस्टर जारी कर सीधी भर्ती में आरक्षण को प्राथमिकता दी है, आने वाले समय में उसके लिए भी आंदोलन करेंगे.

दरअसल, राज्य सरकार की ओर से पदोन्नति में आरक्षण को समाप्त कर दिया गया है. जनरल-ओबीसी एसोसिएशन के कर्मचारियों ने अपनी जीत का श्रेय एसोसिएशन के लोगों के अलावा अन्य सभी लोगों को भी दिया है. इस मौके पर पौड़ी के रामलीला मैदान से एक विशाल रैली निकालकर शक्ति प्रदर्शन किया गया, जिसमें सभी जनरल-ओबीसी एसोसिएशन के कर्मचारी, अधिकारी और शिक्षकों ने शिरकत की. इस रैली में जनरल-ओबीसी एसोसिएशन के प्रदेश पदाधिकारी भी मौजूद रहे. एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष दीपक जोशी ने कहा कि यह सभी कर्मचारियों की जीत है, जो सभी लोगों ने दिन रात एक कर के सरकार से हासिल की है.

वहीं, सरकार द्वारा कैबिनेट में लिए गए फैसले पर प्रदेश अध्यक्ष दीपक जोशी ने कहा कि उनका आंदोलन अभी स्थगित किया गया है, जहां सरकार ने नए पदों पर पहले आरक्षित वर्ग को महत्व दिया है, जो कि जनरल-ओबीसी एसोसिएशन बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेगा. उन्होंने साफ तौर पर कहा कि 31 मार्च तक अगर सरकार अपना ये फैसला वापस नहीं लेती है, तो फिर से जनरल-ओबीसी एसोसिएशन द्वारा एक विशाल धरना प्रदर्शन किया जाएगा. वहीं प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा कि यह सरकार की तुष्टीकरण की नीति है, जिसको कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. साथ ही इसका पुरजोर विरोध किया जाएगा, जबतक सरकार अपना ये बिल वापस नहीं लेती है.

विशेष