राष्ट्रीय

‘AAP तोड़कर भाजपा में आ जाओ, केस बंद करवा देंगे’, सिसोदिया का दावा

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाया है. सिसोदिया ने कहा कि उन्हें बीजेपी की ओर से ऑफर मिला है. दिल्ली के डिप्टी सीएम ने दावा किया है कि बीजेपी ने उन्हें आम आदमी पार्टी को तोड़ने पर सीबीआई और ईडी के सभी केस बंद कराने के लिए ऑफर दिया है.

मनीष सिसोदिया ने इसको लेकर ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा, “मेरे पास भाजपा का संदेश आया है- “आप” तोड़कर भाजपा में आ जाओ, सारे CBI ED के केस बंद करवा देंगे. मेरा भाजपा को जवाब- मैं महाराणा प्रताप का वंशज हूं, राजपूत हूं. सर कटा लूंगा, लेकिन भ्रष्टाचारियों-षड्यंत्रकारियों के सामने झुकूंगा नहीं. मेरे ख़िलाफ़ सारे केस झूठे हैं, जो करना है कर लो.”

गुजरात दौरे पर निकले सिसोदिया

मनीष सिसोदिया ने ये दावा गुजरात दौरे पर निकलने से ठीक पहले किया है. अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया दो दिनों के दौरे पर गुजरात निकले हैं. सिसोदिया ने इससे पहले ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा, “अरविंद केजरीवाल के साथ 2 दिनों के दौरे पर गुजरात जा रहा हूं. गुजरात की जनता केजरीवाल को मौका देना चाहती  है. भाजपा 27 साल से गुजरात में शिक्षा स्वास्थ्य महंगाई के लिए कुछ नहीं कर पाई. अब हम करके दिखाएंगे”

AAP का दावा- सिसोदिया को CM पद का ऑफर मिला

मनीष सिसोदिया के बीजेपी में शामिल होने के दावे के बीच आम आदमी पार्टी ने कहा कि उनको सीएम पद के लिए ऑफर आया था. आप नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि सिसोदिया ने उनसे कहा कि मेरा सपना सीएम बनने का नहीं, हर बच्चे को अच्छी शिक्षा दिलाने का है.

सिसोदिया ने आरोप लगाया कि पहले बीजेपी के नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सीबीआई और ईडी की धमकी देते हैं और उसके बाद सीबीआई की कार्रवाई होती है. केंद्र सरकार चाहती है कि महंगाई बढ़ती रहे और कोई विपक्षी दल सरकार से सवाल न करे. बीजेपी चाहती है कि मोदी जी के मित्रों को राहत मिल जाए और विपक्ष चुप रहे.
सिसोदिया के खिलाफ जारी हुआ सर्कुलर नोटिस

दरअसल शराब घोटाले मामले में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. सिसोदिया समेत 14 आरोपियों के खिलाफ सीबीआई ने लुकआउट सर्कुलर जारी किया था. वहीं डिप्टी सिसोदिया के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी होने के बाद उन्होंने कहा कि ये क्या नौटकी है? मैं दिल्ली में खुलेआम घूम रहा हूं, बताइए कहां आना है?

सिसोदिया ने पीएम मोदी का गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के दौरान एक बयान भी शेयर किया है, जिसमें वो सीबीआई की कार्रवाई पर सवाल उठा रहे हैं. इसके बाद सीबीआई ने इससे जुड़े दस्तावेज ईडी को भी सौंप दिए हैं. उसके बाद ईडी ने भी सिसोदिया के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था.

‘नहीं हुआ कोई शराब घोटाला’

मनीष सिसोदिया शराब नीति पर पहले ही कह चुके हैं कि कोई घोटाला नहीं हुआ, सब बकवास  है. सीबीआई जांच की जरूरत ही नहीं है. इसके साथ ही गिरफ्तारी के सवाल पर कहा कि बात घोटाले की नहीं है इसलिए गिरफ्तारी कर लेंगे, घोटाले की चिंता करते तो गुजरात की अवैध शराब की जांच होती. इनकी दिलचस्पी अरविन्द केजरीवाल को रोकने की है.

Leave a Response