नेतागिरी

बीजेपी ने आज सरकार के पांच सालों के कामकाज का ब्यौरा दिया

देहरादून: भाजपा की तरफ से आज पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सरकार के काम गिनवाए. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा. निशंक ने कहा कि जिन्होंने पवित्र चारों धामों के लिए कभी कोई कार्य नहीं किया, वही लोग ‘चार धाम चार काम’ का झूठा दावा कर रहे हैं. पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा पीएम मोदी के मार्गदर्शन में भाजपा सरकार ने प्रदेश में अभूतपूर्वक काम किए हैं, जिसे जनता बखूबी जानती है.

पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक कहा प्रदेश ने इन 5 वर्षों में शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क-रेल व संचार इंटर कनेक्टिविटी, रोजगार, पर्यटन लगभग सभी क्षेत्रों में नए-नए आयामों को छू रहा है. स्वास्थ्य की बात करें तो 2017 के 836 करोड़ के मुकाबले आज लगभग 3000 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं. केंद्र की अटल आयुष्मान योजना के दायरे में प्रदेश के प्रत्येक परिवार को लाकर प्रदेशवासियों की सेहत की चिंता भी भाजपा सरकार ने की. अब तक 4 लाख से अधिक लोग इस योजना का लाभ ले चुके हैं.

इसके अतिरिक्त ऋषिकेश में AIIMS की स्थापना के साथ श्रीनगर, हल्द्वानी, देहरादून, अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज एवं कुमाऊं में सैटेलाइट AIIMS की स्थापना भी भाजपा सरकारों की देन है. उन्होंने कहा प्रदेश सरकार ने कोरोना महामारी में बेहतर और शत प्रतिशत टीकाकरण करते हुए लोगों की जान बचाने का भी काम किया है.

कोरोना काल में सूबे के 15 लाख परिवारों को 2 साल तक मुफ्त राशन उपलब्ध कराया गया, उज्ज्वला योजना के तहत राज्य में 4.25 लाख गैस कनेक्शन मुफ्त दिए गए. संपत्ति में प्रदेश की आधी आबादी, महिलाओं को पूरा अधिकार दिलाया, साथ ही मातृ शक्ति के लिए ब्याज मुक्त ऋण की योजना की शुरुआत की गई. केंद्र की मदद से राज्य सरकार ने सड़क, रेल और हवाई मार्गों का जाल बिछाकर आधारभूत ढांचा मजबूत करते हुए प्रदेश को आज आर्थिक विकास के हाईवे पर पहुंचा दिया है.

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा उत्तराखंड सैनिक प्रदेश है, लेकिन अपने जवानों के लिए एक भी बड़ा कार्य नहीं करने वाली कांग्रेस अब सैनिक प्रेमी होने का मुखौटा लगाकर जनता के बीच जा रही है. मोदी सरकार में 40 वर्षों से लटकाई वन रैंक वन पेंशन की मांग को पूरा किया. पांचवें धाम के रूप में सैनिक धाम की स्थापना की.

करगिल युद्ध के समय पहली बार देशभक्तों को सम्मान दिलाने का कार्य भी अटल सरकार ने शुरू किया. दूसरी और उत्तराखंड की शान और दिवंगत जनरल विपिन रावत को गली का गुंडा बताने वाले, वीर जवानों को आतंकवादी और बलात्कारी तक कहने वाली कांग्रेस अब उत्तराखंड में सैनिकों की हितैषी दिखने का ढोंग कर रही है.

इन बागियों को निशंक ने मनाया: इस अवसर पर डोईवाला विधानसभा से निर्दलीय ताल ठोकने वाले असंतुष्ट पूर्व भाजयुमो अध्यक्ष सौरभ थपलियाल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष सुभाष भट्ट और पूर्व प्रधान राहुल पंवार ने उपस्थित होकर नाम वापस लेने की घोषणा भी की. निशंक ने जानकारी दी कि हरिद्वार से जय भगवान सैनी, रुड़की से टेक बल्लभ और नितिन शर्मा समेत अनेक प्रत्याशियों ने भाजपा के पक्ष में नाम वापस लिया है. निशंक ने कहा शीघ्र ही पार्टी में अन्य सभी असंतुष्टों को भी मना लिया जाएगा.

Leave a Response