सुनो सरकार

बनने से पहले ही उखड़ने लगी छात्रावास की टाइल्स, झूल रही रेलिंग

Kasturba Gandhi Residential School Kandiyal Village
Kasturba Gandhi Residential School Kandiyal Village

पुरोला: नव नियुक्त खंड शिक्षाधिकारी अजीत भंडारी ने ब्लाक के कई स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय कंडियाल गांव में निर्माणाधीन छात्रावास के निरीक्षण के दौरान कई खामियां मिलीं। यहां छात्रावास भवन की टाइल्स उखड़ रही हैं और रेलिंग भी झूल रही है। इधर, प्राथमिक विद्यालय सुनाली में तैनात एक शिक्षक के अनुपस्थित रहने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। वहीं प्राथमिक विद्यालय पोरा में मिड-डे मील की गुणवत्ता सही नहीं मिलने पर प्रधानाध्यापक को चेतावनी नोटिस जारी किया है।

बीईओ अजीत भंडारी ने श्रीकोट, सुनाली, घुंडाड़ा, धेवरा, कंडियाल गांव, बसंत नगर, पोरा, कस्तूबा गांधी आवासीय विद्यालय कंडियाल गांव आदि 24 से अधिक प्राथमिक एवं जूनियर स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने शिक्षकों को विद्यालयों में बेहतर शैक्षणिक माहौल तैयार करने के निर्देश दिए। प्राथमिक विद्यालय सुनाली में तैनात एक शिक्षक के अनुपस्थित रहने पर नोटिस दिया गया। उन्होंने कहा कि विद्यालय खुलने का पहला दिन होने के कारण कई शिक्षकों को चेतावनी देकर छोड़ा गया है।

उन्होंने बताया कि पुरोला ब्लाक में शत प्रतिशत पुस्तकों का वितरण कर दिया गया है। इस दौरान बीईओ ने कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय कंडियाल का निरीक्षण किया, जिसमें निर्माणाधीन 15 कमरों के छात्रावास में निर्माण कार्य की गुणवत्ता सही नहीं मिली। बिल्डिंग के टाइल्स उखड़ रहे हैं, दरवाजे लग नहीं रहे हैं। रेलिंग भी झूल रही है। बीईओ भंडारी ने कहा कि इस छात्रावास निर्माण की जांच के लिए सीबीआरआई (सेंट्रल बिल्डिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट) रुड़की से कराई जाएगी। इस संबंध में पत्र लिखा गया है।

ठेकेदार को जारी होगा नोटिस
कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के छात्रावास का निर्माण सिंचाई विभाग पुरोला की ओर से किया जा रहा है। इस निर्माण कार्य को देख रहे सिंचाई विभाग के अवर अभियंता अमित भट्ट ने बताया कि बिल्डिंग निर्माण में सुधार करने के लिए ठेकेदार को दो बार नोटिस भेजा गया है, अब तीसरा नोटिस जारी किया जा रहा है। इसके बाद भी यदि ठेकेदार की ओर से कार्य की गुणवत्ता में सुधार नहीं किया जाता तो ठेकेदार के खिलाफ ब्लैकलिस्ट की कार्रवाई की जाएगी। छात्रावास का निर्माण दो करोड़ 10 लाख रुपये से किया जा रहा है।

Leave a Response