Latest Newsनेतागिरी

कांग्रेस प्रत्याक्षी के तौर पर रामनगर में छाये हरीश रावत के बैनर और पोस्टर

हल्द्वानी. उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस कैंपेन कमेटी के चेयरमैन और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत  के चाहने वाले उनके समर्थक ये मान बैठे हैं कि हरीश रावत चुनाव लड़ेंगे. यही नहीं समर्थकों ने हरदा के लिए विधानसभा क्षेत्र का भी चुनाव कर लिया है और सोशल मीडिया में प्रचार भी शुरू कर दिया है. समर्थकों के मुताबिक हरदा नैनीताल जिले की रामनगर सीट से ही 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. हरदा के उत्साहित समर्थकों ने तो बकायदा पोस्टर भी जारी कर दिए हैं. वहीं कांग्रेस के अघोषित प्रत्याशी हरीश रावत के लिए हाथ के पंजे पर वोट भी मांगने लगे हैं. ये पोस्टर सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा हैं.

बता दें कि हरीश रावत अगर रामनगर से ही विधानसभा चुनाव लड़ते हैं तो उन्हें पालिका चेयरमैन हाजी अकरम और दलित नेता किशोरी लाल को मनाना होगा. क्योंकि हाजी अकरम, कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रणजीत रावत खेमे से हैं. यही नहीं अकरम, रणजीत रावत को टिकट न मिलने की शक्ल में खुद निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान भी कर चुके हैं. और नामांकन पत्र खरीकर अपने कागज तैयार करने में जुटे हैं. जबकि किशोरी लाल को दलित समुदाय का नेता माना जाता है. किशोरी लाल के खड़े होने की स्थिति में कांग्रेस को मिलने वाला दलित वोट कुछ हद तक कम हो सकता है.

किशोरी लाल 2007 और 2012 में बीएसपी के टिकट पर चुनाव भी लड़ चुके हैं. जानकार मानते हैं कि हरीश रावत के लड़ने की स्थिति में हाजी अकरम और किशोरी लाल की हैसियत महज वोट काटने वाले प्रत्याशियों के रूप में रह जाएगी. उधर, पूर्व ब्लॉक प्रमुख संजय नेगी चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं. साथ ही महिला कांग्रेस की नैनीताल की जिलाअध्यक्ष आशा बिष्ट और वरिष्ठ कांग्रेस नेता पुष्कर दुर्गापाल भी टिकट मांग रहे हैं. लेकिन इन तीनों ने ही कांग्रेस आलाकमान को चिठ्ठी लिखकर अपनी दावेदारी हरीश रावत के समर्थन में वापस ले ली है. तीनों के मुताबिक अगर हरीश रावत चुनाव लड़ते हैं तो वो एकजुट होकर हरदा को चुनाव लड़ाएंगे.

Leave a Response