राष्ट्रीय

संदेसरा ग्रुप बैंकिंग फ्रॉड-मनी लॉन्ड्रिंग मामले की आंच अहमद पटेल तक पहुंची

कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल (Ahmed Patel) और उनके परिवार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि संदेसरा ग्रुप (Sandesara Group) के खिलाफ 5000 करोड़ रुपए के घोटाले की जांच अब उनके घर तक पहुंच गई है.

अहमद पटेल से ED करेगी पूछताछ

बैंकिंग फ्रॉड (Banking Fraud) और मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) के मामले में जांच के चलते ED कांग्रेस नेता अहमद पटेल के घर पहुंची है. घोटाले के बारे में ED अहमद पटेल से पूछताछ करेगी. बताया जाता है कि अहमद पटेल संदेसरा बंधुओ के काफी करीबी थे.

अहमद पटेल के दामाद पर लगे रिश्वत लेने के आरोप

दरअसल इससे पहले स्टर्लिंग ग्रुप के एक डायरेक्टर से पूछताछ में अहमद पटेल और उनके दामाद पर सवाल खड़े हुए थे. आरोप था कि अहमद पटेल के दामाद इरफान सिद्दीकी को संदेसरा बंधु रिश्वत में मोटी रकम देते हैं.

एक बार में दिए जाते थे 15-25 लाख रुपए

इतना ही नहीं चेतन संदेसरा और गगन धवन कई बार पटेल के दामाद के घर रुपयों से भरे बैग लेकर जाते थे. चार-पांच मौकों पर वह खुद भी उनके साथ थे. एक बार में 15-25 लाख रुपये दिए जाते थे.

कोड वर्ड में करते थे बात

जानकारी के मुताबिक, चेतन संदेसरा अक्सर अहमद पटेल के सरकारी आवास (23, मदर क्रेसंट, नई दिल्ली) जाया करते थे और संदेसरा बंधु इसे कोड वर्ड में ‘हेडक्वॉर्टर 23’ बोलते थे. इरफान सिद्दीकी को संदेसरा बंधु जे2 और फैजल पटेल को जे1 बुलाते थे.

विशेष